19 प्रत्याशियों में से 6 ने कराया व्यय लेखा की जांच, 13 प्रत्याशियों को कारण पृछा नोटिस जारी

मेदिनीनगर। पलामू (अ०जा) लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे 19 प्रत्याशियों में से 6 प्रत्याशियों ने 17 अप्रैल 2019 को अपना व्यय लेखा जांच कराया। पूर्व निर्धारित तिथि के अनुसार व्यय प्रेक्षक अरूण कुमार यादव और आय व्यय लेखा कोषांग के नोडल पदाधिकारी डॉ० राजेश कुमार की उपस्थिति में प्रत्याशियों ने लेखा जांच कराया, जबकि 13 प्रत्याशियों ने व्यय लेखा लेखा जांच टीम के समक्ष प्रस्तुत नहीं किया। ऐसे में 13 प्रत्याशियों का व्यय लेखा जांच नहीं हो सका। जिन प्रत्याशियों ने अपना व्यय लेखा जांच नहीं कराया है, उन प्रत्याशियों को कारण पृछा नोटिस जारी किया गया गया है। जारी नोटिस में प्रत्याशियों को कहा गया है कि वे विनिर्दिष्ट तिथि 17 अप्रैल 2019 को अपना निर्वाचन व्यय लेखा जांच हेतु लेखा जांच टीम के समक्ष प्रस्तुत नहीं किया। ऐसे में 20 अप्रैल तक अपना निर्वाचन व्यय लेखा जांच हेतु प्रस्तुत करें। यदि निर्धारित तिथि को फिर से निरीक्षण के लिए अपना रजिस्टर प्रस्तुत करने में असफल होते हैं, तो माना जाएगा कि जन प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 77 के अंतर्गत अपेक्षित दैनिक निर्वाचन व्यय के लेखा रखने में असफल हैं। नोटिस की सूचना प्राप्ति के बावजूद भी लेखा जांच के लिए प्रस्तुत करने में असफल रहते हैं, तो भारतीय दंड संहिता की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी। उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव लड़ रहे सभी प्रत्याशियों को लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 77 (1) के अंतर्गत निर्वाचन कार्य में होने वाले व्यय के लेखा का संधारण कर लेखा जांच कराना आवश्यक है। इसी आलोक में 13- पलामू (अ०जा) लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के सभी प्रत्याशियों के लेखा का प्रथम जांच 17 फरवरी को राज्य कर उपायुक्त कार्यालय पलामू में होने की तिथि निर्धारित थी। जिसमें 6 प्रत्याशियों ने ही अपना व्यय लेखा की जांच कराई। जिन 6 प्रत्याशियों ने जांच कराई अपनी व्यय लेखा उनमें मदन राम ( कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया,मार्क्सवादी -लेलिनवादी ), रामजी पासवान(निर्दलीय), सत्येंद्र कुमार पासवान (निर्दलीय), दिनेश राम (निर्दलीय ), घुरन राम (राजद) श्याम नारायण भुईंया (बहुजन मुक्ति पार्टी ) के नाम शामिल हैं।

This post has already been read 7945 times!

Sharing this

Related posts