छह महीने में शेयर बाजार की हैसियत में 16.06 लाख करोड़ की बढ़त

मुंबई। शेयर बाजार के कारोबारियों ने पिछले छह महीने के दौरान भारी मुनाफा कमाया है। निवेशकों के लिए पिछला छह माह बेहतर नतीजे लेकर आया है। हालांकि इस दौरान कई दिग्गज कंपनियों के शेयरों में भारी गिरावट भी देखने को मिली है, लेकिन इसके बावजूद बीएसई सेंसेक्स का मार्केट कैपिटलाइजेशन में इजाफा हुआ है। 26 अक्टूबर 2018 में बाजार का पूंजीकरण 1, 33, 31, 977.38 करोड़ रुपये थी, जो 18 मार्च 2019 में बढ़कर 1, 49, 38, 385.65 करोड़ रुपये हो गई है। पिछले छह महीने के कारोबार के दौरान पूंजीकरण में 16, 06, 408.27 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है। पिछले छह महीनों के कारोबार के दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में लगातार बढ़ोतरी दर्ज हुई है और बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं, जिसके कारण इसके बाजार पूंजीकरण में भी बढ़ोतरी हुई है। टॉप मार्केट कैपिटलाइजेशन की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज काबिज है। 18 मार्च को रिलायंस का बाजार पूंजीकण 8, 53, 568.51 करोड़ रुपये रहा है। टाटा कंसल्टिंग सर्विसेस के शेयरों में कमी आने से वह पहले पायदान से फिसल कर दूसरे पायदान पर पहुंच गई है। टीसीएस का मार्केट कैप इस महीने 7, 69, 858.01 करोड़ रुपये रह गया है। इसी तरह तीसरे पायदान पर काबिज एचडीएफसी बैंक का मार्केट कैप भी बढ़कर 6, 19, 678.63 करोड़ रुपये हो गया है। हिंदुस्तान यूनिलीवर का मार्केट कैपिटलाइजेशन 3, 68, 589.52 करोड़ रुपये, आईटीसी का 3, 58, 794.37 करोड़ रुपये, एचडीएफसी का 3, 40, 618.57 करोड़ रुपये, इन्फोसिस का बाजार पूंजीकरण 3, 15, 262.09 करोड़ रुपये, भारतीय स्टेट बैंक का मार्केट कैप 2, 66, 355.03 करोड़ रुपये, कोटक महिंद्रा का बाजार पूंजीकरण 2, 56, 974.02 करोड़ रुपये रहा है। आईसीआईसीआई बैंक का मार्केट कैप भी 2, 55, 897.85 करोड़ रुपये हो गया है। हालांकि आईसीआईसीआई मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में दसवें स्थान पर काबिज है।

This post has already been read 6736 times!

Sharing this

Related posts