पत्नी की हत्या कर साले को मारी गोली, फिर किया आत्मसमर्पण

धनबाद। जिले के पूर्वी टुन्डी थाना क्षेत्र में महिला पारा शिक्षक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई, जबकि अन्य दो को गंभीर रूप से घायल कर दिया। आरोप है कि महिला शिक्षक के पति ने घटना को अंजाम दिया है। घायल के बयान के बाद आरोपित युवक ने सोमवार को डीएसपी के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
बताया गया कि रविवार की रात 2:30 बजे पूर्वी टुंडी की रहने वाली पारा शिक्षक सरस्वती देवी के घर में चार-पांच की संख्या में हथियारबंद अपराधी घुुस आए। अपराधियों ने सबसे पहले महिला पारा शिक्षक और उसकी मां चंदा मुनि देवी को धारदार चाकू से वार कर बुुरी तरह से घायल कर दिया। इसके बाद आवाज सुनकर जागे शिक्षक के भाई जितेंद्र हांसदा को भी अपराधियों ने गोली मार दी। गोली जितेंद्र के पीठ में लगी। घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी वहां से भाग निकले। ग्रामीणों ने तत्काल इसकी सूचना पूर्वी टुंडी थाना को दी और तीनों घायल लोगों को धनबाद पीएमसीएच में भर्ती कराया। जहां चिकित्सकों ने पारा शिक्षक सरस्वती देवी को मृत घोषित कर दिया। मृतका के घायल भाई जितेंद्र हांसदा ने बताया कि हमलावरों में मृत पारा शिक्षक सरस्वती देवी का पति मंगल सोरेन भी शामिल था। सोमवार को घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीण एसपी अमन कुमार, डीएसपी गोपाल कालनिडीया, थाना प्रभारी कमलनाथ मुंडा, ग्रामीणों से पूछताछ की। हत्याकांड में आरोपित मंगल सोरेन ने सोमवार को पूर्वी टुन्डी थाना में डीएसपी के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है।
मृतका के भाई ने बताया कि मंगल सोरेन, जो पहले से ही शादीशुदा था, ने पहले सरस्वती को अपने प्रेम जाल में फंसाया फिर झूठ बोलकर उससे शादी रचाई। जब मंगल सोरेन के बारे पूरी सच्चाई सरस्वती को मालूम पड़ी तो दोनों में विवाद शुरू हो गया। विवाद के बाद से ही सरस्वती अपनी मां और भाई के साथ अपने मायके में रह रही थी। घटना के बाद पुलिस पड़ताल में जुट गई है।

This post has already been read 4851 times!

Related posts