नक्सलियों को हथियार सप्लाई करने वाले दो अपराधी चढ़े पुलिस के हत्थे

खूंटी। नक्सलियों के खिलाफ पुलिस का अभियान लगातार जारी है। इसी क्रम में सोमवार को पुलिस ने एक और सफलता हासिल करते हुए नक्सलियों को हथियार सप्लाई करने जा रहे दो अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों अभियुक्तों के पास से पुलिस एक पिस्टल, 10 जिंदा कारतूस व दो मोटरसाइकिल बरामद की। यह जानकारी खूंटी एसडीपीओ कुलदीप कुमार ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर दी।
उन्होंने बताया कि सोमवार को जिला पुलिस अधीक्षक को गुप्त सूचना प्राप्त हुई कि दो व्यक्ति किसी को अवैध हथियार व कारतूस सप्लाई करने तमाड़ से नौढ़ी होते हुए पुरनानगर जाने वाले हैं। सूचना के आधार पर कार्रवाई करने के लिए एसपी ने खूंटी एसडीपीओ कुलदीप कुमार के नेतृत्व में एक छापामारी दल का गठन किया। छापामारी दल में अड़की थाना प्रभारी चंद्रशेखर आजाद, पुलिस अवर निरीक्षक रजनीकांत, पुलिस अवर निरीक्षक दीपक कुमार सिंह एवं सशस्त्र बल को शामिल किया गया। इसके बाद पुलिस टीम ने अड़की थानांतर्गत ग्राम नौढ़ी स्थित तीन मुहानी पक्की सड़क के पास नाकाबंदी कर दी। इसी दौरान सामने से आ रहे दो मोटरसाइकिलों पर सवार दो व्यक्ति पुलिस को देखकर भागने लगे। पुलिस टीम ने दोनों को पीछाकर दबोच लिया। पकड़े गए लोगों में से एक ने अपना नाम शम्भु लोहरा (पिता मोतीलाल लोहरा, निवासी ग्राम रैयदा, थाना बुंडू, जिला रांची) और दूसरे ने अपना नाम देवीचरण लोहरा (पिता गोमिला लोहरा, निवासी झारगांव, थाना तमाड़, जिला रांची) बताया। पुलिस द्वारा तलाशी लिए जाने पर शंभू लोहरा के पास से एक 7.65 बोरी की देसी पिस्टल व छह जिंदा कारतूस तथा देवीचरण लोहरा के पास से चार जिंदा कारतूस बरामद किए गए। साथ ही दो मोटरसाइकिल भी बरामद की गई। एसडीपीओ कुलदीप कुमार ने बताया कि संभवत: ये दोनों नक्सलियों को हथियार सप्लाई करते हैं लेकिन अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि शंभु लोहरा पूर्व में नक्सलियों के साथ सांठगांठ के आरोप में बुंडू थाना से जेल जा चुका है। दोनों से पूछताछ जारी है।

This post has already been read 9178 times!

Sharing this

Related posts