पलामू सेंट्रल जेल में देर रात छापेमारी से कैदियों में हड़कंप

मेदिनीनगर।  लोकसभा चुनाव के दौरान अपराधियों पर लगाम लगाने को लेकर सोमवार की देर रात आईपीएस अधिकारी ताराचंड के नेतृत्व में पलामू सेंट्रल जेल में छापेमारी की गयी। छापेमारी के दौरान जेल के भीतर पूरे सेल की जांच की गई।
अचानक देर रात जेल में छापेमारी होने से कैदियों के बीच हड़कंप मच गया। प्रशासन व पुलिस को सूचना मिली थी कि जेल के कुछ कैदियों की गतिविधियां संदिग्ध हैं। वहीं, लोकसभा चुनाव को देखते हुए आपराधिक गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए छापेमारी की गई है। जेल की सुरक्षा का भी जायजा लिया गया। पलामू सेंट्रल जेल में छापेमारी के लिए 154 प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को मिला कर 10 अलग-अलग टीमें गठित की गई थी। हर एक टीम में एक वरीय पुलिस अधिकारी व दंडाधिकारी शामिल थे। छापेमारी में आईपीएस अधिकारी विनीत कुमार, एसडीएम नंद किशोर गुप्ता, डीएसपी प्रेमनाथ, सीओ शिवशंकर पांडेय समेत आधा दर्जन से अधिक इलाके के थाना प्रभारी मौजूद थे। इस सेंट्रल जेल में 1000 से अधिक कैदी बंद हैं। जिनमें कई बड़े आपराधिक संगठन से संबंध रखनेवाले कुख्यात अपराधी व नक्सली शामिल हैं।

This post has already been read 6344 times!

Sharing this

Related posts