Ranchi : श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी महाराज के 355वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में विशेष दीवान सजाया गया

Ranchi : श्री गुरु नानक सत्संग सभा द्वारा, कृष्णा नगर कालोनी में आज 9 जनवरी,रविवार को दशमेश पिता श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी महाराज के 355वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य मे सुबह एवं रात को विशेष दीवान सजाया गया. रात के दीवान की शुरुआत 10 बजे स्त्री सत्संग सभा की शीतल मुँजाल,इंदु पपनेजा एवं रेशमा गिरधर द्वारा “तहीं परकाश हमारा भयो पटना शहर विखे भव लयो ” शबद गायन से हुई. हजुरी रागी जत्था भाई महिपाल सिंह एवं साथियों ने ” सा धरती भई हरयालवी जिथे मेरा सतगुर बैठा आए” एवं ” श्री भगवान को भेद ना पायो” तथा ” पावन पवितर मित्तर आज मोरे आए हैं” शबद गायन कर संगत को निहाल किया.
गुरुद्वारा के हेड ग्रंथी ज्ञानी जिवेंदर सिंह जी ने कथावाचन कर गुरुगोविंद सिंह जी की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उन्होंने सदा प्रेम,एकता,भाईचारे का संदेश दिया.किसी ने गुरुजी का अहित करने की कोशिश भी की तो उन्होंने अपनी सहनशीलता,मधुरता, सौम्यता से उसे परास्त कर दिया और कहा कि श्री गुरू गोविन्द सिंह संत और सिपाही दोनों थे,उन्होंने धर्म की खातिर अपने चार पुत्रों की कुर्बानी दी. गुरुजी की मान्यता थी कि मनुष्य को किसी को डराना भी नहीं चाहिए और न किसी से डरना चाहिए.वे अपनी वाणी में उपदेश देते हैं.

और पढ़ें : Jharkhand : रांची रिम्स में कोरोना पॉजिटिव 57 मरीज भर्ती, एक की मौत

” भै काहू को देत नहि, नहि भय मानत आन ”

वे बाल्यकाल से ही सरल, सहज, भक्ति-भाव वाले कर्मयोगी थे.उनके जीवन का प्रथम दर्शन ही था कि धर्म का मार्ग सत्य का मार्ग है और सत्य की सदैव विजय होती है.प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में 7 जनवरी की रात को शुरू हुए श्री अखंड पाठ साहिब की समाप्ति आज रात 12:00 बजे हुई तत्पश्चात रागी जत्था भाई महिपाल सिंह जी ने आरती एवं बधाई का शबद पढ़ा और अरदास,हुकुमनामा एवं कढ़ाह प्रसाद वितरण के साथ दीवान की समाप्ति रात 12:30 बजे हुई.सत्संग सभा के सचिव अर्जुन देव मिढ़ा ने समूह साध संगत को प्रकाश पर्व की बधाई दी. गुरु नानक सत्संग सभा के मीडिया प्रभारी नरेश पपनेजा ने बताया कि कोविड संक्रमण के चलते सत्संग सभा द्वारा सादगी के साथ प्रकाश पर्व मनाने का निर्णय लिया गया था इसी के तहत आज संगत के दीवान हॉल में बैठने पर मनाही थी.श्रद्धालुओं ने गाइडलाइन का पालन करते हुए गुरुद्वारा साहिब पहुंच कर श्री गुरुग्रंथ साहिब जी के सामने माथा टेका और अपने अपने घरों में रहकर प्रकाश पर्व के पूरे आयोजन का यूट्यूब के मेरे साहिब चैनल पर सीधा प्रसारण देखा.सुबह का दीवान 7:00 बजे से 9:30 बजे तक सजाया गया था.

इसे भी देखें : मुड़हर पहाड़ : पिकनिक का नया स्पॉट

एक अन्य कार्यक्रम में गुरु नानक सेवक जत्था के सदस्य मनीष मिढ़ा के नेतृत्व में आज प्रकाश पर्व के दिन सुबह श्री गुरु गोविंद सिंह जी महाराज की जन्म स्थली श्री हरमंदिर साहिब,पटना पहुंचे और माथा टेका.इस पावन अवसर पर गुरु नानक सेवक जत्था ने श्री कृष्णा नगर कॉलोनी,रातु रोड की संगत द्वारा उपलब्ध कराए गए वाटर कूलर एवं आर.ओ वाटर प्यूरीफायर को साध संगत की सेवा के लिए श्री हरमंदिर साहिब,पटना के जत्थेदार गौहर ए मसकीन ज्ञानी रंजीत सिंह जी एवं तख्त साहिब के सचिव सरदार इंदरजीत सिंह जी को सौंपा. इस जत्थे में गिरीश मिढ़ा,मनीष मिढ़ा,पंकज मिढ़ा,अश्विनी सुखीजा,आशु मिढ़ा,नवीन मिढ़ा,मोहित मुंजाल,चंदन गिरधर,पवनजीत सिंह खत्री,मोहित गिरधर,हरीश सरदाना एवं आकाश मुंजाल शामिल थे.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें

This post has already been read 27111 times!

Related posts