SBI का ‘SBI कार्ड पे’ लॉन्च, शॉपिंग पर पेमेंट के लिए नहीं होगी कार्ड और पिन की जरूरत

नई दिल्ली । स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने आज एसबीआई कार्ड पे सुविधा लांच किया। इसके प्रयोग से ग्राहक मोबाइल फोन के जरिए प्वाइंट ऑफ सेल पर कॉन्टैक्टलेस पेमेंट कर सकते हैं। एसबीआई कार्ड पे से नियर फील्ड कॉम्युनिकेशन वाले पीओएस पर मोबाइल पर टैप करते ही पेमेंट कर सकेंगे। इसके लिए पास में क्रेडिट कार्ड रखने और पिन डालने की जरूरत नहीं होगी। भारत में यह अपनी तरह का पहला पेमेंट सॉल्यूशन है। इस तकनीक की मदद से लोग मोबाइल फोन के जरिए तेज, सुविधाजनक और अधिक सुरक्षित पेमेंट कर सकेंगे। यह देश में अपनी तरह का पहला पेमेंट सॉल्यूशन है।

इसे एसबीआई कार्ड मोबाइल ऐप के हिस्से के तौर पर डेवलप किया गया है। एसबीआई कार्ड के एमडी और सीईओ हरदयाल प्रसाद ने कहा कि एसबीआई कार्ड पे कस्टमर्स को हर ट्रांजैक्शन और रोजाना लेन-देन की लिमिट तय करने की सुविधा देगा। फिलहाल होस्ट कार्ड एम्युलेशन पर आधारित ऐप प्रति ट्रांजैक्शन 2,000 रुपए तक की लिमिट और रोजाना 10,000 रुपए के ट्रांजैक्शन की अनुमति देते हैं, जिससे इस फीचर का सीमित प्रयोग हो पाता है। बता दें कि एसबीआई बैंक ने 1 अक्टूबर से एवरेज मंथली बैलेंस, जमा, निकासी, और एटीएम जैसी सुविधाओं के लिए लगने वाले शुल्क में कई बदलाव किए हैं। ये सारे बदलाव एक अक्टूबर से लागू हो गए हैं।

यह देश में अपनी तरह का पहला पेमेंट सॉल्यूशन है। इसे एसबीआई कार्ड मोबाइल ऐप के हिस्से के तौर पर डेवलप किया गया है। एसबीआई कार्ड के एमडी और सीईओ हरदयाल प्रसाद ने कहा कि एसबीआई कार्ड पे कस्टमर्स को हर ट्रांजैक्शन और रोजाना लेन-देन की लिमिट तय करने की सुविधा देगा। फिलहाल होस्ट कार्ड एम्युलेशन पर आधारित ऐप प्रति ट्रांजैक्शन 2,000 रुपए तक की लिमिट और रोजाना 10,000 रुपए के ट्रांजैक्शन की अनुमति देते हैं, जिससे इस फीचर का सीमित प्रयोग हो पाता है। बता दें कि एसबीआई बैंक ने 1 अक्टूबर से एवरेज मंथली बैलेंस, जमा, निकासी, और एटीएम जैसी सुविधाओं के लिए लगने वाले शुल्क में कई बदलाव किए हैं। ये सारे बदलाव एक अक्टूबर से लागू हो गए हैं।

This post has already been read 615 times!

Sharing this

Related posts