राहुल ने प्रधानमंत्री के लिए किया अभद्र भाषा का प्रयोग, दर्शाता है विक्षिप्त मानसिकता: भाजपा

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस     अध्यक्ष राहुल गांधी   पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए ‘अभद्र’   भाषा का प्रयोग करने का आरोप लगाया है। साथ ही तीन तलाक संबंधी कानून को खत्म करने को लेकर दिए बयान को भाजपा ने ‘तुष्टिकरण’ की पराकाष्ठा बताया। भाजपा मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा ने गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अपनी पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चा के कार्यक्रम में दिए भाषण पर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने राहुल पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए अभद्र भाषा का उपयोग करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को बिना किसी आदर    सूचक शब्दों के संबोधित करना और उनके   लिए अपशब्दों का प्रयोग करना राहुल गांधी की छोटी मानसिकता और उनकी बौखलाहट को दर्शाता है। संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी का यह कहना कि सत्ता में आने पर तीन तलाक कानून को खत्म कर दिया जाएगा। यह तुष्टिकरण की पराकाष्ठा है।

तीन तलाक की प्रथा को स्वयं सुप्रीम कोर्ट ने ही खत्म किया था और वह सुप्रीम कोर्ट के फैसले के अनुरूप लाए गए कानून को खत्म करने की बात कर रहे हैं। पात्रा ने राहुल गांधी पर व्यक्तिगत आक्षेप करते हुए कहा कि वह अपने जीजा रॉबर्ट वाड्रा के साथ मिलकर लंदन में प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं। राहुल भारत में केवल गरीबों के साथ फोटो खिचवाते हैं और मौज मस्ती के लिए लंदन में प्रॉपर्टी खरीदते हैं। आज के न्यू-इंडिया में कानून सबके लिए बराबर है। जमानत पर बाहर घूम रहे परिवार को भी कानून के सामने झुकना पड़ेगा। भाजपा नेता ने कहा कि राहुल गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा नेताओं को सरकार से ही नहीं देश से भी बाहर करना चाहते हैं। वह देश में रोहिंग्या और बांग्लादेशी लोगों को बसाना चाहते हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के भारत को सोने की चिड़िया कहने पर राहुल के आपत्ति जताने को पात्रा ने उनकी अपरिपक्वता बताई। उन्होंने कहा कि अमित शाह ने भारत को सोने की चिड़िया बताया था। देश को आदिम काल से सोने की चिड़िया कहा जाता रहा है। राहुल इसे प्रोडक्ट से जोड़ रहे हैं। असल में देश को प्रोडक्ट वह लोग मानते हैं, जिनके खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय कार्रवाई कर रहा है।

 

This post has already been read 6234 times!

Sharing this

Related posts