वाराणसी में प्रियंका बनाम मोदी नहीं….कांग्रेस ने अजय राय को उतारा

लखनऊ। पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी और कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा के वाराणसी से मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने की अटकलों पर विराम लग गया है। वाराणसी से कांग्रेस ने अजय राय को उम्मीदवार बनाया है। 
कांग्रेस नेतृत्व ने गुरुवार को प्रधानमंत्री की संसदीय सीट वाराणसी से अजय राय और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की संसदीय सीट रही गोरखपुर से मधुसूदन मिस्त्री को उम्मीदवार बनाया है। इसके साथ ही इस हाई प्रोफाइल सीट से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के मैदान में उतरने की अटकलें खत्म हो गई हैं। 2014 के चुनाव में वाराणसी से मोदी के खिलाफ कांग्रेस के अजय राय और आम आदमी पार्टी से अरविंद केजरीवाल चुनाव लड़े थे। मोदी को 2014 में कुल 5.81 लाख से ज्यादा वोट मिले थे। केजरीवाल को 2.9 लाख वोट जबकि राय को करीब 76 हजार वोट मिले थे। पीएम मोदी ने केजरीवाल को 3,71,784 वोटों से मात दी थी। इस बार साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे सपा-बसपा के उम्मीदवार 2014 के चुनाव में अपनी जमानत भी नहीं बचा पाए थे।
प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ कांग्रेस का उम्मीदवार घोषित होने के बाद अजय राय ने मीडिया से बातचीत में कहा कि यह हमारी मातृभूमि है और यहीं से पूरी ताकत के साथ चुनाव लडूंगा। उन्होंने कहा कि काशी में मंदिरों को तोड़ा गया। बाहर के रहने वाले काशी को नहीं समझते। काशी में बाहर से लोगों को बुलाया गया।
गोरखपुर से घोषित कांग्रेस उम्मीदवार मधुसूदन मिस्त्री मूलत: गुजरात के रहने वाले हैं। वह पूर्व में उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी भी रहे हैं। उन्हें कांग्रेस ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की संसदीय सीट रही गोरखपुर से उम्मीदवार बनाया है।

This post has already been read 6734 times!

Sharing this

Related posts