दंतेवाड़ा: मुठभेड़ में दो हार्डकोर नक्सली ढेर

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में गुरुवार सुबह पुलिस एवं नक्सलियों के मध्य हुयी मुठभेड़ में दो वर्दीधारी नक्सली मारे गए और संतरी के रूप में तैनात एक नक्सली घायल हो गया है। घायल को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के अनुसार कुंआकोंडा थाने से डीआरजी और जिला पुलिस बल की संयुक्त पार्टी दुवालीकरका के जंगलों में सर्चिंग के लिए निकली थी। इस दौरान धनीकरका एवं दुवालीकरका के मध्य जंगल में घात लगाए नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस बल ने भी गोलियां दागीं। करीब एक घंटे तक हुयी मुठभेड़ के बाद नक्सलियों के पैर उखड़ गए और वे घने जंगल और पहाड़ी की आड़ लेकर भागने में सफल रहे। बस्तर आईजी विवेकानंद सिन्हा ने बताया कि घटनास्थल की सर्चिंग के दौरान पुलिस ने दो वर्दीधारी नक्सलियों के शव बरामद किए हैं। इनमें से एक नक्सली की पांच लाख के इनामी मलांगिर एरिया कमेटी के सदस्य और आईईडी विशेषज्ञ वर्गीश के रूप में शिनाख्त हुई है। दूसरे की पहचान जोगा मंडावी एलओएस मेम्बर के तौर पर हुयी है। वह भी एक लाख का इनामी है। जबकि घायल व गिरफ्तार नक्सली का नाम दशरू है। उसे दंतेवाड़ा जिला अस्पताल में दाखिल कराया गया है। इन सभी के पास से 315 बोर की एक रायफल, एक भरमार बंदूक, बैनर-पोस्टर, दवाइयां, गोला-बारूद, डेटोनेटर, बिजली के तार, बैटरी, दैनिक उपयोग की सामग्री तथा नक्सली साहित्य आदि बरामद हुआ है। सिन्हा ने बताया कि मारे गए नक्सली हत्या, हत्या का प्रयास, आगजनी, अपहरण, लूटपाट, पुलिस पर फायरिंग, बारूदी विस्फोट एवं सड़क काटने जैसी दर्जनों संगीन वारदात में शामिल रहे हैं। मारा गया नक्सली वर्गीश हाल ही में भाजपा विधायक भीमा मंडावी की हत्या में भी शामिल रहा है।

This post has already been read 31924 times!

Sharing this

Related posts