अंबानी पर केंद्र मेहरबानः राहुल

मोगा । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पंजाब के किसान, मजदूर और मेहनतकशों के अनाज का 31,000 करोड़ रुपया नहीं दे रही। यह वही सरकार है, जो अनिल अंबानी को राफेल सौदे में 30,000 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचा चुकी है। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए यह टिप्पणी गुरुवार को यहां पंजाब सरकार के राजकीय समारोह में की। उन्होंने मोदी सरकार की किसान सम्मान योजना की निंदा की। कहा, अगर कांग्रेस केंद्र की सत्ता में आती है तो ‘ न्यूनतम आय योजना’ को देश में गारंटी से लागू किया जाएगा। इसकी मासिक राशि 500 रुपये से ज्यादा होगी। यह पैसा सीधे लाभार्थियों के खाते में जाएगा।
विचारधारा की जंग
कांग्रेस नेता राहुल ने कहा, कांग्रेस गुरुनानक देव की विचारधारा वाली पार्टी है। लोकसभा चुनाव में असली जंग इस विचारधारा की एक -दूसरे को लड़वाने वाली भाजपा से होगी। अगर कांग्रेस सत्ता में आयी तो गुरु नानकदेव का 550वां प्रकाशोत्सव सारे देश में धूमधाम से मनाया जाएगा। मोदी सरकार ने पांच साल पहले किये वादे पूरे नहीं किए। युवाओं और किसानों से धोखा किया गया। आज कांग्रेस की पंजाब, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सरकार है। जब से इन चार राज्यों में कांग्रेस की सरकार बनी है, तब से किसानों के कर्ज माफ करने का सिलसिला जारी है।
प्रधानमंत्री को बहस की चुनौती
राहुल ने राफेल के मुद्दे पर प्रधानमंत्री को सार्वजनिक स्थान पर बहस करने की चुनौती दी । उन्होंने कहा, जीएसटी और नोटबंदी से आम लोगों और व्यापारियों को परेशानी हुई है। कांग्रेस सत्ता में आती है तो जीएसटी का आसान रूप लागू किया जाएगा। कांग्रेस सरकार का फोकस रोजगार पर होगा।
कैप्टन का दावा
‌इससे पहले मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पंजाब की 13 सीटें जीतेगी । मुख्यमंत्री ने दावा किया कि पंजाब में दो साल के कांग्रेस के कार्यकाल में 6.50 लाख युवाओं को नौकरी दी गई। 65,000 करोड़ रुपये के नए औद्योगिक प्रस्ताव पर सहमति हुई है। इनमें से 36,000 करोड़ रुपये के प्रस्ताव स्वीकृत हो चुके हैं। आज से पंजाब सरकार भूमिहीन किसान और मजदूरों के कर्ज माफ करने की योजना शुरू कर रही है। कैप्टन ने कहा, पंजाब के गोदामों में अनाज भरा है। केंद्र सरकार उसे नहीं उठवा रही। नए सीजन में अनाज स्टोर करने में परेशानी हो सकती है। उन्होंने मांग की है कि पंजाब में आढ़तिया सिस्टम खत्म किया जाए। कैप्टन ने कहा, धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी में किसी को बख्शा नहीं जाएगा। इस मौके पर पंजाब कांग्रेस प्रभारी आशा कुमारी और पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ भी मौजूद थे।
यह ‘क्या’ बोल गए…
राहुल अपना भाषण खत्म कर अपनी सीट पर बैठने के लिए बढ़ रहे थे कि सुनील जाखड़ ने उनके कान में कुछ कहा। राहुल फौरन लौटे और बोले, पंजाब की बसों में महिलाओं को परेशानी होती है। इसलिए यहां की बसों में महिलाओं के लिए सीटें आरक्षित होनी चाहिए। राफेल पर चर्चा करने के बाद बसों की सीटों पर आए राहुल गांधी की इस बात पर मंचासीन नेता ही नहीं, नीचे बैठे लोग भी हैरान रह गए। राहुल की इस टिप्पणी पर कोई कांग्रेस नेता बोलने को तैयार नही हुआ।

This post has already been read 8315 times!

Sharing this

Related posts