सर्दियों में छोटे बच्चों को सुलाने का क्या है सही तरीका

सर्दियों में बच्चों का ख्याल रखना आसान नहीं है। ऐसे में बहुत जरूरी है कि न्यू बोर्न बेबी का ध्यान रखने के लिए कुछ बेसिक बातों पर गौर किया जाए। वहीं, अगर आप पहली बार पैरेंट बने हैं, तो आपकी जिम्मेदारी और भी बढ़ जाती है। आइए, जानते हैं सर्दियों में कैसे रखें बच्चों का ध्यान- -जिस कमरे में आपने न्यू बॉर्न बेबी को रखा है, ठंड के मौसम में उस कमरे का टेंप्रेचर हल्का गर्म रखें। इसके लिए आप रूम हीटर का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। लेकिन इसे…

Read More

बाल कहानी : सबसे अच्छी मम्मी

-हरीश कुमार ‘अमित’- अक्षय चौथी कक्षा में पढ़ता था। पढ़ाई में अच्छा था, पर शरारतें भी ख़ूब करता था। अपनी शरारतों से वह बाज़ नहीं आता था, चाहे जितना भी समझा लो। किसी-न-किसी शरारत की योजना उसके दिमाग़ में हमेशा कुलबुलाती ही रहती। न जाने कैसे उसे नई-नई शरारतें सूझ जाती थीं। उसकी शरारतों की सबसे ज़्यादा शिकार उसकी मम्मी ही बनती थीं। अपने पापा से तो वह बहुत डरता था और उनसे कोई शरारत करने की हिम्मत कर नहीं पाता था। पापा तो वैसे भी सारा दिन ऑफिस में…

Read More

गाय का दूध पीने से खराब हो सकती हैं बच्चों की किडनियां

बच्चों के विकास में मां का दूध ही सर्वोत्तम आहार माना गया है। मां द्वारा बच्चों को स्तनपान नहीं करवाए जाने और छह महीने के नवजात को अक्सर गाय का दूध पीने की सलाह इसलिए दे दी जाती है कि गाय का दूध भैंस के दूध से पतला होता है और नवजात जल्द पचा लेते हैं लेकिन सिनर्जिस्ट्क इंटेग्रेटिव हैल्थ के अध्ययन मुताबिक गाय का दूध बच्चों को देना हानिकारक भी हो सकता है। यही नहीं कुछ और रिसर्चर्स का भी मानना है कि दूध से बच्चों को नुकसान हो…

Read More

कुछ बच्चों में जन्म से होते हैं दांत, जाने कारण और इलाज

आमतौर पर बच्चे के पहले दांत 6 महीने के आस पास निकलते हैं और आगे चलकर 2-3 साल तक बाकि दूध के दांत आते हैं। पर क्या आप जानते हैं कि कुछ बच्चों के जन्म के समय से ही दांत होते है? जी हां, हालांकि यह ज्यादा कॉमन नहीं है। बच्चों में दांत निकलने की प्रक्रिया को टीथिंग कहते हैं। आइए जानते हैं क्या है इसका कारण और इलाज के तरीके। क्या हैं नेटल टीथ के कारण और लक्षण नेटल टीथ का कारण बच्चे के विकास में गडबडी के चलते…

Read More

बच्चों को हुआ कब्ज, तो ये उपाय देंगे राहत

बच्चों को बहुत जल्दी कब्ज की समस्या हो जाती है। ऐसा उनके सही तरीके से खाना ना खाने के कारण होता है। छोटे बच्चों को ब्रेस्टफीडिंग कराने से उन्हें बहुत कम कब्ज की समस्या होती है। कई बार बच्चे कुछ दिनों तक मल त्याग नहीं करते हैं इससे घबराने की जरूरत नहीं है। लेकिन अगर यह समस्या ज्यादा दिनों तक रह जाएं तो यह कब्ज की समस्या बन जाती है। बच्चे को कब्ज होने का कारण: 1-सोलिड फूड: अगर आपका बच्चा चबाने वाला खाना खा रहा है तो यह कब्ज…

Read More

बरसात में बच्चों को बचाएं बोन फ्रैक्चर से

बरसात के मौसम में फिसलन आम बात है। बच्चे कुछ ज्यादा ही उछल-कूद करते हैं अतः उनका गिरना और गिरने पर बोन फ्रैक्चर होना भी स्वाभाविक है जो न केवल अत्यंत पीड़ादायक होता है अपितु इससे उनकी पढ़ाई पर भी बुरा असर पड़ता है। यदि हम कुछ सावधानियां रखें तो इस प्रकार की दुर्घटनाओं से बचा जा सकता है। बरसात के दिनों में छत पर अथवा खुली बालकनी में लगातार पानी बरसने से काई जम जाती है जो अत्यंत फिसलन भरी होती है अतः ऐसे स्थानों पर जाते समय पूरी…

Read More

बाल कथा: मूर्ख भेड़िया और समझदार पिल्ला

एक बार की बात है कि एक कुत्ते का पिल्ला अपने मालिक के घर के बाहर धूप में सोया पड़ा था। मालिक का घर जंगल के किनारे पर था। अतः वहां भेड़िया, गीदड़ और लकड़बग्घे जैसे चालाक जानवर आते रहते थे। यह बात उस नन्हे पिल्ले को मालूम नहीं थी। उसका मालिक कुछ दिन पहले ही उसे वहां लाया था। अभी उसकी आयु भी सिर्फ दो महीने थी। अचानक एक लोमड़ वहां आ निकला, उसने आराम से सोते पिल्ले को दबोच लिया। पिल्ला इस अकस्मात आक्रमण से भयभीत हो उठा।…

Read More

कान दर्द की समस्या से अपने बच्चों को ऐसे छुटकारा दिलवाएं

ठंड के मौसम में सभी को कान दर्द की काफी परेशानी होती हैं। बड़े तो इस दर्द को बता कर तुरंत इलाज कर सकते हैं। लेकिन बच्चों के लिए ये बहुत दिक्कत का कारण हो जाता हैं। यह 3 साल तक के बच्चों में ज्यादा होता है। कुछ बच्चों को कान में इंफेक्शन होने का खतरा ज्यादा होता है। इन बच्चों को किसी चीज से एलर्जी की वजह से भी ऐसा हो सकता है। बच्चे के कान में इन्फेक्शन होने पर अक्सर बच्चा कान पकड़ कर रोता है। इसलिए बेहद…

Read More

बच्‍चों को ऑनलाइन रखना है सेफ? ये टिप्‍स आएंगे काम

आज भारत में बाल दिवस मनाया जा रहा है। डिजिटलाइजेशन के दौर में अब बच्‍चे टेक्‍नॉलजी का भरपूर इस्‍तेमाल कर रहे हैं। फेसबुक, ट्विटर हो या फिर इंस्‍टाग्राम, वॉट्सऐप, बच्‍चे हर जगह इन प्‍लैटफॉर्म्‍स काफी ज्‍यादा ऐक्‍टिव हैं। इसके फायदे हैं तो नुकसान भी। पैरंट्स के लिए जरूरी है कि वे अपने बच्‍चों को ऑनलाइन सेफ रखें। इस गैलरी के जरिए हम कुछ ऐसे टिप्‍स बता रहे हैं कि पैरंट्स कैसे अपने बच्‍चों को ऑनलाइन सेफ रख सकते हैं… ​लोकेशन परमिशन कुछ भी पोस्‍ट करने से पहले एक बार सोचें।…

Read More

बाल कहानी : गणित

-दीपक मशाल- अरे कुर्सी खींचकर बैठ जाइए, खड़े मत रहिए। दो मिनट में मुखातिब होता हूँ आपसे। अरे नहीं… नहीं आपसे नहीं कह रहा, आपसे तो बात कर ही रहा हूँ। हाँ बिलकुल निश्चिंत रहिए, आपने कहा है तो काम होगा ही। अच्छा नमस्ते… नमस्ते। बात खत्म होते ही मंत्री महोदय ने फोन वापस चोगे से टिका दिया। सर, आपने याद किया? अफसर ने एक भी पल गँवाए बिना पूछा। हाँ जी, क्यों पीछे पड़े हैं आप मेरे सिंह सा’ब? चैन से जीने क्यों नहीं देते। सर!! कोई गुस्ताखी हुई…

Read More