पुण्यतिथि पर याद किये गए भोजपुरी के महानायक भिखारी ठाकुर

रांची। भोजपुरी युवा विकास मंच की ओर से धुर्वा स्थित अम्बेडकर रीजेंट ऑक्सफोर्ड स्कूल में बुधवार को भोजपुरी के महानायक, लोक संगीतकार, नाट्य निर्देशक स्व भिखारी ठाकुर की 48 वी पुण्यतिथि मनाई गई।इस मौके पर उनके तस्वीर पर माल्यापर्ण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई।
 मंच के अध्यक्ष आशुतोष द्विवेदी ने कहा कि भिखारी ठाकुर का जन्म 18 दिसम्बर 1887 एव मृत्यु 10 जुलाई 1971 को हुआ था।भोजपुरी के शेक्सपीयर कहे जाने वाले स्व भिखारी ठाकुर का जन्म बिहार के सारण जिले के कुतुबपुर दिवरा गांव में हुआ। भोजपुरी संस्कृति के मसीहा की लिखी बिदेसिया, भाई विरोध, कलयुग प्रेम, ननद भोजाई, राधे श्याम बहार आदि प्रमुख कृतियाँ थीं।  लोक कलाकार भिखारी ठाकुर पर वक्तव्यों ने उनकी जीवन पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि ऐसा कलाकार भोजपुरी में दुबारा कोई जन्म नहीं ले सकता।
 इस  अवसर पर मुख्य रूप से भोजपुरी युवा विकास  मंच के संरक्षक राजीव रंजन , राम, समाजसेवी विनोद बैठा, स्कूल की  निदेशिका संगीता कुमारी, प्राचार्य अमित कुमार  सहित विद्यर्थियों और अन्य  लोगों ने भोजपुरी के महानायक भिखारी ठाकुर का  माल्यार्पण क्र उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की ।

This post has already been read 5832 times!

Sharing this

Related posts