बांग्लादेश: जलवायु परिवर्तन से बच्चों के जीवन को खतरा

ढाका। बांग्लादेश में जलवायु परिवर्तन से जुड़ी पर्यावरणीय आपदाओं के कारण एक करोड़ 90 लाख से अधिक बच्चों के जीवन और भविष्य पर खतरा मंडरा रहा है। कई परिवार अपनी बच्चियों का बाल विवाह करने तक को मजबूर हो रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। यूनिसेफ ने एक रिपोर्ट में कहा है कि जलवायु परिवर्तन से होने वाला पर्यावरणीय खतरा बांग्लादेश के सबसे गरीब समुदायों के परिवारों के समक्ष ज्यादा गंभीर है। इसकी वजह से ये परिवार अपने बच्चों को लालन-पालन, भोजन, स्वास्थ्य और अच्छी शिक्षा देने में भी असमर्थ हो जाते हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि जलवायु परिवर्तन बांग्लादेश और पूरी दुनिया में हासिल की गई ऐसी कई उपलब्धियों को समाप्त करने की क्षमता रखता है जो इन देशों ने बच्चों के जीवन और विकास के क्षेत्र में अर्जित की हैं। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इस देश की विस्तृत नदी प्रणालियों के इर्द-गिर्द रहने वाले करीब एक करोड़ 20 लाख बच्चे सबसे अधिक प्रभावित हैं।

This post has already been read 8762 times!

Sharing this

Related posts