International : श्रीलंका में आर्थिक संकट के साथ- साथ राजनीतिक संकट गहराया, आधी रात को पूरी कैबिनेट का इस्तीफा

International : भारत का पड़ोसी देश श्रीलंका अब तक के सबसे बड़े आर्थिक संकट से जूझ रहा है। अभूतपूर्व आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका में अब गहरा राजनीतिक संकट भी पैदा हो गया है। रविवार देर रात कैबिनेट के सभी सदस्यों ने तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे दिया है। हालांकि श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिन्द्रा राजपक्षे अपने पद पर बने हुए हैं।

Tricks : इलायची के ये टोटके दिलाएंगे ढेरों लाभ, कर देंगे मालामाल, जाने कैसे

राशन, ईंधन और बिजली जैसी आवश्यक वस्तुओं की भारी कमी से जूझ रहे लोगों में भारी गुस्सा है और वे देश के विभिन्न हिस्सों में सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतर आए हैं। लोगों की नाराजगी को देखते हुए श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबायो राजपक्षे ने शुक्रवार देर रात पहली अप्रैल से देश में आपातकाल की घोषणा की थी। दूसरे दिन शनिवार को सरकार ने 36 घंटे के लिए देशव्यापी कर्फ्यू की घोषणा की।

इसे भी देखें : आज मिलिये युवा दिलों पर राज करने वाले फैशन कोरिओग्राफर से

रविवार को श्रीलंका में 36 घंटे के राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू का उल्लंघन करने और सरकार विरोधी मुहिम चला रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और पानी की बौछार से उन्हें तितर-बितर करने का प्रयास किया। प्रदर्शनकारी देश को आर्थिक संकट से उबारने के लिए एक सर्वदलीय कार्यवाहक सरकार के गठन की मांग कर रहे हैं।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें

This post has already been read 43553 times!

Sharing this

Related posts