श्रीनगर जेल में पुलिस और कैदियों के बीच हिंसक झड़प

जम्मू। श्रीनगर केन्द्रीय जेल में गुरुवार देर रात कैदियों और पुलिसकर्मियों के बीच हिंसक झड़प हुई है। कैदियों ने बैरकों में आग लगा दी। बैरक में रखा रसोई गैस का एक सिलेंडर फट गया। विस्फोट में दो कैदी घायल हो गए, जबकि तीन बैरकों को नुकसान पहुंचा है। प्रशासन ने कानून-व्यवस्था कायम रखने के लिए श्रीनगर के पुराने शहर के कईं हिस्सों में प्रतिबंध लगा दिए हैं। साथ ही श्रीनगर, अनंतनाग और कुलगाम में इंटरनेट सेवा की गति कम कर दी है। पुलिस के मुताबिक घटना का कारण गुरुवार देर शाम अधिकारियों ने जेल के कुछ कैदियों को एक विशेष बैरक में स्थानांतरित करने का काम शुरू किया था। इस पर कुछ कैदियों को लगा कि उन्हें राज्य से बाहर ले जाया जा रहा है। कैदियों में अफवाह फैल गई कि उन्हें कश्मीर घाटी से बाहर स्थांतरित किया जा रहा है। इसके बाद कैदी उपद्रव पर उतर गए। उन्होंने पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट शुरू कर दी और कुछ जगह आग भी लगी दी। अधिकारियों का कहना है कि जेल में कुछ अन्य बैरकों के साथ विशेष बैरक को पुनर्निर्मित किया जाना था। इसीलिए कैदियों को अन्य बैरकों में स्थानांतरित किया जा रहा था। उन्हें तब तक वहां रहना था, जब तक मरम्मत कार्य पूरा नहीं हो जाता, लेकिन गलतफहमी के कारण यह घटना हो गई। श्रीनगर उपायुक्त साहिद इकबाल चौधरी ने बताया कि वह व्यक्तिगत रूप से घटना की जांच कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं बीती रात करीब नौ बजे से यहां (केंद्रीय जेल श्रीनगर) हूं। कैदियों ने जेल में भारी नुकसान किया है। इस बारे में कैदियों से पूछताछ की जा रही है।

This post has already been read 11786 times!

Sharing this

Related posts