सीआईडी ने एक महिला सहित तीन साइबर अपराधियों को किया गिरफ्तार

रांची। अपराध अनुसंधान विभाग (सीआईडी) के साइबर क्राइम थाना पुलिस ने एक महिला सहित तीन साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है। साइबर अपराधियों में महाराष्ट्र निवासी पाल प्रदीप मनीराम, पश्चिम बंगाल निवासी अजय कुमार और झारखंड की एक महिला शामिल है।
डीएसपी नेहा बाला ने शनिवार को बताया कि इस संबंध में साइबर थाने में तीन मई को संजीव कुमार ने मामला दर्ज कराया गया था। दर्ज मामले में बताया गया था कि व्हाट्सएप के माध्यम से उनसे संपर्क किया गया। इसके बाद एक लिंक भेज कर पैसे को 10 गुना करने का लालच देकर 96.2 लाख रुपये साइबर अपराधियों ने अवैध हस्तांतरण करते हुए ठगी कर ली। व्हाट्सएप पर भेजे गए लिंक के माध्यम से निवेश करवाने के लिए संजीव कुमार को अलग-अलग बैंक खातों में पैसे डालने को बोला गया।
डीएसपी ने बताया कि मामले की जांच करते हुए सीआईडी ने वेबसाइट के टेक्निकल एनालिसिस को खंगाला। जांच के दौरान पता चला यह चाइना का है। वहीं ट्रांजेक्शन के आईपी का सर्वर जापान, हांगकांग और चाइना में पाया गया। जांच आगे बढ़ी तो इसके तार पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और झारखंड से जुड़े मिले। सीआईडी ने स्थानीय पुलिस की मदद से तीनों राज्य से एक-एक आरोपित को गिरफ्तार किया। उनके पास से 15 अलग-अलग बैंकों के खाते, छह मोबाइल, कॉरपोरेट खाता से लिंक्ड पांच सिम कार्ड, नौ चेकबुक, कॉरपोरेट इंटरनेट बैंकिंग क्रिडेंशियल्स और व्हाट्सएप चैट सहित कई चीजें जब्त की गई।
उन्होंने बताया कि जांच में पता चला कि अपराधियों ने आईसीआईसीआई के एक बैंक अकाउंट से 10 दिन में 4 करोड़ 67 लाख 3088 रुपये क्रेडिट किया। केंद्रीय गृह मंत्रालय के नेशनल साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल में इस बैंक खाते के विरुद्ध करीब 10 राज्यों की 13 शिकायतें दर्ज है।

This post has already been read 642 times!

Sharing this

Related posts