वेनेजुएला के लिए अमेरिकी मानवीय सहायता कोलंबिया की सीमा तक पहुंची

मेक्सिको सिटी। वेनेजुएला को दी जाने वाली अमेरिकी मानवीय सहायता सामग्री का पहला जत्था कोलंबिया की सीमा तक पहुंच चुका है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय विकास के लिए अमेरिकी एजेंसी यूएसएआईडी की ओर से भेजी गयी मानवीय सहायता सामग्री में 50-50 टन जरूरी सामान से लदे हुए दो कंटेनरों के अलावा कम से कम छह ट्रक भी हैं जो ककुटा शहर के सहायता संग्रह केन्द्र पहुंच चुके हैं। इस सप्ताह के शुरू में वेनेजुएला में विपक्षी नेताओं ने कहा था कि देश में जरूरी सामानों वाली मानवीय सहायता को आकर्षित करने के लिए 14 फरवरी को एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन करेंगे। स्वयं को वेनेजुएला का अंतरिम राष्ट्रपति घोषित करने वाले विपक्षी नेता एवं नेशनल असेंबली के अध्यक्ष जुआन गुआइदो ने कोलंबिया, ब्राजील और एक कैरेबियाई द्वीप में सहायता संग्रह केन्द्र स्थापित करने की घोषणा की थी। वेनेजुएला के मौजूदा राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने एक साक्षात्कार में अमेरिका की ओर से भेजी गयी मानवीय सहायता को राजनीति से प्रेरित बताते हुए कहा था कि वह किसी को वेनेजुएला के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने की इजाजत नहीं देंगे। गौरतलब है कि वेनेजुएला में मौजूदा राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के खिलाफ हो रहे राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन को देखते हुए अमेरिका ने कहा है कि वह सैन्य विकल्प पर विचार कर रहा है। नेशनल असेंबली के अध्यक्ष एवं विपक्ष के नेता जुआन गुआइदो ने 23 जनवरी को इन विरोध प्रदर्शनों का नेतृत्व करने के साथ ही स्वयं को देश का अंतरिम राष्ट्रपति घोषित किया था। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने जुआन गुआइदो को वेनेजुएला के अंतरिम राष्ट्रपति के रूप में मान्यता देने की घोषणा पहले ही कर दी है। अमेरिका के अलावा अब तक कनाडा, अर्जेंटीना, ब्राजील, चिली, कोलंबिया, कोस्टा रिका, ग्वाटेमाला, होंडुरास, पनामा, पैराग्वे और पेरू ने विपक्ष के नेता जुआन गुआइदो को वेनेजुएला के अंतरिम राष्ट्रपति के रूप में मान्यता देने की घोषणा की है। उल्लेखनीय है कि वेनेजुएला में हजारों लोग मौजूदा राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इन विरोध प्रदर्शनों का नेतृत्व गुआइदो कर रहे हैं। जनवरी की शुरुआत में मादुरो ने राष्ट्रपति के तौर पर अपने दूसरे कार्यकाल की शपथ ली थी। हाल में संपन्न हुए चुनावों में उन पर गड़बड़ी करने के आरोप लगे थे। मादुरो के नेतृत्व में कई वर्षों से वेनेजुएला गंभीर आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। बढ़ती कीमतों के अलावा खाने-पीने और दवाईयों की कमी के कारण लाखों लोगों ने वेनेजुएला से पलायन भी किया है। मादुरो ने अमेरिका पर वेनेजुएला के तेल भंडारों पर कब्जा करने की योजना बनाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि गुआइदो अमेरिका के निर्देश पर काम कर रहे हैं।

This post has already been read 6368 times!

Sharing this

Related posts