रमेश बुधुड़ी दुर्व्यवहार मामले की जांच विशेष विशेषाधिकार समिति को सौंपी गयी!

New Delhi : लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने नई संसद में बीजेपी नेता रमेश बुधुड़ी द्वारा अभद्र भाषा के इस्तेमाल की जांच कराने का फैसला किया है. उन्होंने बीजेपी सांसद रमेश बुधुड़ी और बीएसपी सांसद दानिश अली का मामला विशेष विशेषाधिकार समिति को सौंपने की घोषणा की है. यह जानकारी अधिकारियों ने 28 सितंबर को दी और कहा कि दोनों सांसदों के खिलाफ शिकायत मिलने के बाद यह फैसला लिया गया.

दरअसल, कई सांसदों की ओर से लोकसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर बीजेपी सांसद रमेश बुधुड़ी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई थी. जवाब में बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे, रवि किशन और हरनाथ सिंह यादव ने भी लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखकर दानिश अली के व्यवहार की जांच कर कार्रवाई की मांग की. इन शिकायतों पर गौर करते हुए स्पीकर ओम बिरला ने रमेश बुधुड़ी और दानिश अली के बीच जुबानी जंग का मामला संसद की विशेष विशेषाधिकार समिति को सौंप दिया.

बता दें कि पिछले दिनों जब संसद का विशेष सत्र चल रहा था तो लोकसभा में चंद्रयान-3 की सफलता को लेकर चर्चा चल रही थी. इस बीच रमेश बुधुड़ी ने दानिश अली के खिलाफ कई नस्लीय टिप्पणी की थी, जिस पर विपक्षी दलों ने कड़ी आपत्ति जताई थी. रमेश बुधुड़ी के बयान से विपक्षी दल ही नहीं, बीजेपी के कुछ नेता भी हैरान हैं. बीजेपी ने बुधूरी को कारण बताओ नोटिस भी भेजा है, लेकिन दूसरी तरफ पार्टी ने उन्हें राजस्थान चुनाव से पहले एक अहम जिम्मेदारी भी सौंपी है. विपक्षी दल इसे बीजेपी की दोहरी नीति बता रहे हैं और बीजेपी की आलोचना कर रहे हैं.

This post has already been read 3361 times!

Sharing this

Related posts