बीएमएस व कारपोरेट घराने को लाभ पहुंचाने के लिए ट्रेड यूनियन एक्ट में संशोधन किया गया : रमेंद्र कुमार

बेरमो: यूनाइटेड कोल वर्कर्स यूनियन की जोनल सम्मेलन स्टाफ क्लब कथारा में सम्पन्न किया गया जिसका  अध्यक्षता चंद्रशेखर झा,जवाहर यादव,सुरेश कुमार शर्मा,रूमकी मित्रा के द्वारा संयुक्त रूप से किया गया जबकी संचालन चंद्रशेखर झा  के द्वारा ही किया गया जोनल सम्मेलन भव्य रूप में आयोजित किया और अतिथियों का स्वागत के लिए तीन तोरण द्वार बनाया गया था जो शहीद कॉमरेड बालेश्वर महतो, कामरेड सुमन बनर्जी एवं कामरेड रविंद्र सिंह के नाम से बनाएं  गये थे और सम्मेलन हॉल का नाम नरेश प्रसाद रखा गया था इस सम्मेलन का विधिवत उद्घाटन यूनियन के अध्यक्ष कॉमरेड रमेंद्र कुमार एटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष के हाथो किया गया कार्यक्रम का शुभारमभ झंडोतोलन के साथ किया गया झंडोतोलन बीके झा के द्वारा किया गया सम्मेलन के दौरान सम्मेलन के लिए रिपोर्ट पेश यूनियन के महासचिव सह जेबीसीसीआई सदस्य लखनलाल महतो द्वारा किया गया वहीं इस दौरान एटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष रमेंद्र कुमार ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार मजदुर विरोधी नितियो को लागू कर कोयला मजदूरो को बेवश बनाने का कार्य लगातार करते आ रही है बीएमएस व कारपोरेट घरानों को लाभ पहुंचाने के लिए ट्रेड यूनियन एक्ट में संशोधन किया गया इसके पीछे की मंशा बीएमएस के लोगों को हर जगह बैठाने की ही एकमात्र समझ में आती है यूनियन का पंजीकृत होना बंद हो चुका है यूनियन बनाने का अधिकार छीना जा रहा है मजदूर कई हिस्सों में बटे हुए हैं ट्रेड यूनियन के नेताओं में भटकाव है 8व 9जनवरी के देशव्यापी हड़ताल में भी कुछ श्रमिक संगठनों का भूमिका के कारण हड़ताल पर बुरा असर पड़ा लेकिन इसके बावजूद एमसीएल ,डब्लूसीएल, आदि कंपनियों में हड़ताल असरदार रहा हड़ताल का प्रभाव उत्पादन से आका नहीं जा सकता है इसका सही आकलन संप्रेषण से ही जाना जा सकता है अब वक्ता आ गया है कोयला मजदूरो का जवाब देने का स्थिति और समय का नजाकत को देखते हुए आज कोयला मजदूरों का एकमात्र सोच होना चाहिए की देश से मोदी सरकार को हटाना जोनल कमेटी का किया गया गठन – इस दौरान बेरमो जोनल कमेटी का गठन भी किया गया जहां अध्यक्ष कॉमरेड चंद्रशेखर झा ,उपाध्यक्ष कॉमरेड जवाहर लाल यादव, कॉमरेड सुरेश प्रसाद शर्मा सचिव कॉमरेड नवीन कुमार विश्वकर्मा सह सचिव गणेश प्रसाद, महतो भीम महतो कोषाध्यक्ष रामदास केवट को सर्वसम्मति से चुना गया

This post has already been read 7225 times!

Sharing this

Related posts