डीसी आवास के सामने राजा तालाब सौंदर्यीकरण कार्य में अनियमितता

कोडरमा। जिला योजना मद, विधायक मद, सांसद मद सहित अन्य मदों से कराए जा रहे कोडरमा राजा तालाब के सौंदर्यीकरण के कार्य में भारी गड़बड़ी का मामला सामने आ रहा है। कोडरमा डीसी आवास के सामने 98 लाख की लागत से राजा तालाब का सौंदर्यीकरण कार्य चल रहा है। योजना का कार्य रांची के एजेंसी को आवंटित किया गया है, जिसपर भारी अनियमितता का भी आरोप लगने लगा है। लोगों के शिकायत पर नगर पंचायत अध्यक्ष कांति देवी और उपाध्यक्ष कुलबीर सलूजा ने भी वहां का निरीक्षण किया और अनियसमितता पर गहरी नाराजगी जाहिर की। इधर कार्यपालक पदाधिकारी जितेंद्र जैसल ने संवेदक को नोटिस जारी किया है। उन्होंने कहा है कि लोगों द्वारा घटिया कार्य के साथ-साथ निम्न गुणवत्ता के मैटेरियल का इस्तेमाल करने, सीढ़ी को तोड़े बिना मिट्टी से स्लोपिंग करने, घटिया ईंट का प्रयोग करने का आरोप लोगों द्वारा लगाया गया है। नगर पंचायत के अध्यक्ष कांति देवी ने कार्य में अनियमितता के कारण जेई को कार्य रोकते हुए डीसी को लिखित रूप से जानकारी देने को कहा है। उन्होंने कहा कि कार्य में काफी अनियमितता बरती जा रही है। प्राक्कलन के अनुरूप कार्य नहीं हो रहा है। पत्थर की गुणवत्ता भी ठीक नहीं है। पुरानी सीढ़ी के उपर ही मिट्टी फिलिंग का कार्य किया जा रहा है, जो बारिश के मौसम में बह कर तालाब में चला जाएगा। उन्होंने कहा कि जेई को लगातार मॉनिटरिंग करने को कहा गया है। जनता द्वारा भी शिकायत की जा रही है। किसी भी स्थिति में कार्य में लिपापोती नहीं होने दिया जाएगा। ज्ञात हो कि राजा तालाब को हाईटेक बनाने को लेकर प्रथम चरण में जिला योजना मद का 98 लाख रूपया नगर पंचायत कोडरमा को दिया गया है। इस राशि से तालाब के एक छोर में वाल निर्माण, सीढ़ी निर्माण, मिट्टी फिलिंग आदि का कार्य किया जाना है। लेकिन अभियंताओं द्वारा सही तरीके से मॉनिटरिंग नहीं होने के कारण कार्य की गुणवत्ता प्रभावित हो रही है। यह मामला जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है, डीसी आवास के सामने कार्य में इतनी गडबडी हो रही है और कोई देखने वाला नहीं है।

This post has already been read 7100 times!

Sharing this

Related posts