छात्र शक्ति के आगे जेएसएससी झुका, सीजीएल परीक्षा हुआ रद्द

सीबीआई जांच और अध्यक्ष के इस्तफा तक संघर्ष जारी रहेगा: देवेन्द्र नाथ महतो

रांची: झारखण्ड स्टेट स्टूडेंट्स यूनियन के बैनर तले देवेन्द्र नाथ महतो के नेतृत्व में जेएसएससी सीजीएल परीक्षा से पूर्व पेपर लीक के विरोध चरणबद्ध आंदोलन के तीसरे दिन पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत जेएसएससी कार्यालय महाघेराव कार्यक्रम के दौरान आंदोलन के परिणामस्वरूप जेएसएससी के ऑफिशियल वेबसाइट पर 28 जनवरी के पेपर वन और पेपर टू सभी पेपर रद्द और अगामी 4 फरवरी को आयोजित सीजीएल परीक्षा को स्थगित करना पड़ा। पेपर लीक का ठोस सबूत मिलने के बाद जेएसएसयू चरणबद्ध आंदोलन का ऐलान करते हुए 29 जनवरी को झारखण्ड के 24 जिला मुख्यालय में जेएसएससी अध्यक्ष नीरज सिन्हा और मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन का पुतला दहन किया गया। तथा 30 जनवरी को सम्पूर्ण झारखंड में कैंडल मार्च निकाला गया।
 क्रांतिकारी छात्र नेता देवेन्द्र नाथ महतो ने बताया कि जेएसएससी सीजीएल परीक्षा झारखंडियों के लिए अहम रहने के बावजूद परीक्षा से पूर्व ही पेपर लीक होना दुर्भाग्य है, झारखंडी गरीब छात्र भूखे प्यासे आठ दस साल दिन रात पढ़ाई करने के लिए बहार रहे।और अवैध कमाई करने वाले के पुत्र पच्चीस तीस लाख में एक दिन पूर्व एक घंटा पढ़कर नौकरी लेकर राज्य को बर्बाद करे ये बर्दास्त नहीं किया जायेगा, जेएसएसयू द्वारा निरन्तर आंदोलन के परिणामस्वरूप जेएसएससी सीजीएल एग्जाम रद्द हुआ, 
मौके पर देवेन्द्र नाथ महतो ने बताया कि जेएसएससी सीजीएल महाघोटाला का सीबीआई जांच और जेएसएससी अध्यक्ष नीरज सिन्हा का इस्तफा देने तक निरन्तर आंदोलन जारी रहेगा।

This post has already been read 641 times!

Sharing this

Related posts