उपायुक्त के अध्यक्षता में अनबंध पर डॉक्टरों के बहली हेतु लिया गया साक्षताकार

चतरा। स्वस्थ चतरा कार्यक्रम के तहत जिले में जिला आरोग्य कुंजी, हेल्थ क्यूब, बाइक एम्बुलेंस सेवा जैसे बड़े स्वास्थ्य सुधार के बाद जिले में अब नक्सल प्रभावित और बुनियादी सुविधाओं से अछूते जगहों के लिये अनुबंध के आधार पर जिला प्रशासन द्वारा डॉक्टरों की बहाली की जा रही है। आकांक्षी जिला के स्वास्थ्य मानक पर खरा उतरने के लिये चतरा जिले में चिकित्सकों की कमी अब जल्द ही दूर की जाएगी। इसके लिए प्रबंधन ने कवायद शुरू कर दी है। जिला प्रशासन द्वारा डिस्ट्रिक्ट मिनरल फण्ड से विजिटिंग डॉक्टर के पद पर अनुबंध पर चिकित्सकों का आवेदन मांगा गया था। पहले चरण में इनका साक्षात्कार 2 फरवरी को चतरा उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह के अध्यक्षता में समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में ली गई। दूसरे चरण में शेष चिकित्सकों का साक्षात्कार रांची में 03 फरवरी को लिया जाएगा। उपायुक्त श्री सिंह ने पूरे मामले पर जानकारी देते हुये बताया कि जहां स्वास्थ्य सुविधाओं का अभाव है उसे पूरा किया जायेगा। जरूरत के अनुसार जिला प्रशासन स्वास्थ्य क्षेत्र की सारी कमियों को दूर कर रही है। जिला प्रशासन द्वारा डॉक्टरों की बहाली की जा रही है। जो पूरी तरह से जिले के लिए नई पहल है। इसका उद्देश्य प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता को मजबूत करना है। इन चिकित्सकों के द्वारा दुर्गम क्षेत्रो में स्वास्थ्य सेवा ली जाएगी, जहां के लोग अभी तक इन सेवाओं से वंचित है। साथ मे सेवाओं का विस्तार उन क्षेत्रों में किया जा रहा है जिन पर अब तक ध्यान नहीं दिया गया।

This post has already been read 10714 times!

Sharing this

Related posts