कजाकिस्तान में दो गुटो के बीच हुआ झगड़ा, किसी भारतीय के हताहत होने की सूचना नहीं

नयी दिल्ली। विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने रविवार को कहा कि पश्चिमी कजाकिस्तान के तेल खनन इलाके में कामगारों के बीच हुए संघर्ष में वहां उस समय मौजूद किसी भारतीय के हताहत होने की सूचना नहीं है। स्थानीय रिपोर्ट में कहा गया कि विदेशी और स्थानीय कर्मियों के बीच झगड़ा हुआ। मुरलीधरन ने एक ट्वीट में कहा कि रिपोर्टों के अनुसार तेंगिज ऑयल फील्ड में निर्माणाधीन इकाई में कुछ कामगारों के बीच आपस में झगड़ा हुआ और इसमें भारतीय शामिल नहीं हैं। उन्होंने कहा कि कुछ भारतीय कर्मचारी घटना के समय अवश्य वहां मौजूद थे। हालांकि किसी भारतीय को गंभीर चोट आने की कोई सूचना भारतीय दूतावास ने नहीं दी है। मुरलीधरन ने कहा कि अस्ताना में भारतीय दूतावास अतारियू में स्थानीय भारतीयों और वहां के अधिकारियों के साथ संपर्क में है। उन्होंने एक दूसरे ट्वीट में कहा कि वहां कार्यरत हमारे मिशन ने किसी प्रभावित भारतीय की मदद के लिए फोन नम्बर+77012207601 जारी किया है। कजाकिस्तान के सबसे बड़े तेल क्षेत्र में स्थानीय श्रमिकों और उनके अरब सहयोगियों के बीच रविवार को हुए विवाद में 30 लोग घायल हो गए। घटना का वीडियो सामने आने के बाद जार्डन और लेबनान में रोष फैल गया। अरब इंजीनियरों और श्रमिकों पर हमलों के वीडियो व्यापक रूप से अरब देशों में सोशल मीडिया पर प्रसारित हुए हैं। इसमें अरब कामगारों को बड़ी संख्या में स्थानीय श्रमिकों द्वारा पीटते हुए दिखाया गया है।

This post has already been read 6477 times!

Sharing this

Related posts