12वीं के परीक्षा परिणाम में संशोधन करने की मांग को लेकर छात्र-छात्राओं का धरना

Protest ABVP

पाकुड़ : बारहवीं के प्रकाशित परीक्षा परिणाम में संशोधन करने की मांग को लेकर छात्र छात्राओं ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के बैनर तले जिला शिक्षा पदाधिकारी के कार्यालय के समक्ष धरना शुक्रवार को धरना दिया। इसके पूर्व छात्र छात्राओं ने राज प्लस टू स्कूल परिसर से परिषद के बैनर तले जुलूस निकाला और स्थानीय अंबेदकर चौक पर राज्य के शिक्षा मंत्री का पुतला दहन किया।

इसे भी देखें : “ब्लैक फंगस” लक्षण और निदान बता रहे हैं मेडिका हॉस्पिटल के डॉक्टर अनुज

मौके पर छात्रों ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन व जैक अध्यक्ष के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।धरना प्रदर्शन का नेतृत्व परिषद के नगर मंत्री अमित साहा ने किया।मौके पर विश्वविद्यालय संयोजक राहुल मिश्रा विशेष रूप से मौजूद रहे।कोई दो ढाई घंटे बाद जिला शिक्षा पदाधिकारी विद्यार्थियों के बीच पहुँचे और उनकी बातें सुनीं।उन्होंने विद्यार्थियों को आश्वस्तकिया कि उनकी बातों को यथोचित पदाधिकारी तक पहुँचा दी जाएगी ताकि उनकी समस्याओं का समाधान हो सके।

मौके पर विश्वविद्यालय संयोजक राहुल मिश्रा ने बताया कि बगैर परीक्षा लिए ही जैक द्वारा राज्य के हजारों विद्यार्थियों को असफल घोषित कर दिया गया।उसे वैसे विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं तो और क्या कहा जा सकता है। यह सरासर अन्याय है। हम मांग करते हैं कि जैक अध्यक्ष जल्द से जल्द इसमें संशोधन करें।

और पढ़ें : नई नियमावली से झारखंडी मूल के सामान्य जातियों के छात्रों के साथ भी घोर अन्याय : प्रतुल

अमित साहा ने कहा कि जब से हेमंत सोरेन की सरकार बनी है तब से पूरी शिक्षा व्यवस्था लचर हो गई है। उन्होंने राज्य के शिक्षा मंत्री को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वे खुद ही 12 वीं पास नहीं कर पाए। ऐसे मंत्री को हमारे पास या फेल होने से क्या फर्क पड़ता है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की कि किसी योग्य व्यक्ति को अविलंब शिक्षा मंत्री बनाया जाए ताकि हम छात्रों के भविष्य के साथ इस प्रकार का खिलवाड़ ना हो। साथ ही कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जैक अध्यक्ष और राज्य के मुख्यमंत्री से यह मांग करती है कि जल्द से जल्द इसमें संशोधन करें।वरना हमारा आंदोलन इसी प्रकार जारी रहेगा।

मौके पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य दिशा बजाज,विशाल भगत,विभाग संयोजक धनंजय साहा,सानू रजक, सत्यम भगत, तन्मय, गुलशन, अभिनव, सुप्रिया, दुलाल आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

This post has already been read 3301 times!

Related posts