जापान के नए राजा ने पहले सार्वजनिक भाषण में विश्व शांति का अनुरोध किया

तोक्यो। जापान के नए राजा नारुहितो शनिवार को हजारों लोग की उत्साहित भीड़ के सामने पहली बार नजर आए और उन्होंने जनता से विश्व शांति के लिए मिलकर काम करने का आह्वान किया। गुलदाउदी सिंहासन पर बुधवार को बैठने वाले 59 वर्षीय नारुहितो ने कहा, ‘‘मैं सचमुच चाहता हूं कि हमारा देश विदेशी देशों के साथ हाथ से हाथ मिलाकर विश्व शांति और विकास की राह पर बढ़े।’’ जापान के 126वें राजा कोट पहनकर मध्य तोक्यो में शाही महल की शीशे से ढकी बालकनी में थोड़ी देर के लिए जनता के समक्ष पेश हुए। उनके साथ महारानी मसाको भी थीं। महारानी मसाको ने खूबसूरत पीले रंग की ड्रेस पहनी हुई थी और उसके साथ उसी रंग की हैट और मोतियों का हार पहना हुआ था। राजा अकिहितो और महारानी मिचिको अपने बच्चों के साथ नजर नहीं आए क्योंकि उन्होंने तीन दशक लंबे शासन के बाद आधिकारिक कर्तव्यों से दूरी बनाए रखने का फैसला लिया है। अकिहितो (85) दो सदी से भी ज्यादा समय के जापान के पहले ऐसे राजा हैं जिन्होंने अपनी इच्छा से पद त्याग किया है।

This post has already been read 6111 times!

Sharing this

Related posts