रेल सुविधाओं के विस्तार और बेहतर कनेक्टिविटी के लिए रेलमंत्री से मिले : सांसद संजय सेठ

Ranchi : सांसद श्री संजय सेठ ने राँची में रेल सुविधाओं के विस्तार और रेल कनेक्टिविटी को और बेहतर बनाने के लिए केंद्रीय रेल मंत्री श्री अश्वनी वैष्णव से नई दिल्ली में मुलाकात की। मुलाकात के दौरान श्री सेठ ने केंद्रीय मंत्री को एक आग्रह पत्र भी सौंपा।

मंत्री को दिए आग्रह पत्र में सांसद ने कहा कि झारखण्ड में 3 रेलवे जोन काम करता है, ऐसे में यहाँ एक समन्वय पदाधिकारी व कार्यालय का आरम्भ होना आवश्यक है। राँची में रेलवे की तरफ से एक समन्वय पदाधिकारी की नियुक्ति होना रेलहित व जनहित दोनों के लिए बेहतर होगा। वहीं रेल से संबंधित परियोजनाओं और राज्यों के बीच इससे बेहतर समन्वय हो सकेगा। वहीं श्री सेठ ने लोहरदगा टोरी रेल लाइन से ट्रेन परिचालन शुरू करने का आग्रह किया है। विशेष रुप से राजधानी एक्सप्रेस, शताब्दी या गरीब रथ को सप्ताह में 3 दिन इसी रूट से चलाने का आग्रह किया है।

और पढ़ें : उसके बाद से घर वापस नहीं लौटा आज कुएं से उसका शव बरामद हुआ है

श्री सेठ ने मंत्री को बताया कि कोरोना संक्रमण काल में यह रेल लाइन ऑक्सीजन ट्रांसपोर्टिंग के लिए सबसे बेहतर रेल लाइन साबित हुई बल्कि यह रेल लाइन लाइफ लाइन बन गयी। इसकी वजह एकमात्र थी कि रांची से नई दिल्ली जाने में 3 घंटे के समय की बचत होती है। इसके अतिरिक्त उन्होंने रांची से लखनऊ-हरिद्वार के लिए ट्रेन परिचालन शुरू करने का आग्रह भी किया।

इसे भी देखें : एंबुलेंस के अभाव में घायल मरीज ने तड़प तड़प कर तोड़ा दम

चांडिल क्षेत्र में रेल सुविधाओं के विस्तार, टाटा बरकाकाना पैसेंजर के पुनः परिचालन शुरू करने और चांडिल में रेलवे द्वारा बनाए जा रहे बाईपास पर विस्तृत चर्चा की।श्री सेठ ने रेल मंत्री से आग्रह किया कि झारखण्ड में सब्जी और फल की बढ़ती खेती को देखते हुए राँची से किसान रेल का परिचालन आवश्यक है ताकि राँची व आसपास के किसानों की उपज को अच्छा बाजार मिल सके। किसान देश के दूसरे हिस्सों में अपनी फसलें आसानी से भेज सकें।वहीं लपरा-राँची मुख्य पथ पर रेलवे फाटक के समीप ओवरब्रिज निर्माण व मैक्लुस्कीगंज रेलवे स्टेशन के फुट ओवर ब्रिज को राय साइडिंग के पास बाजार से जुड़े मुख्यपथ तक जोड़ने का आग्रह भी सांसद श्री सेठ ने केंद्रीय रेल मंत्री से किया। पर्यटन विकास की दृष्टि से राँची क्षेत्र में भी विस्टाडोम ट्रेन के परिचालन का आग्रह श्री सेठ ने केंद्रीय मंत्री से किया।

This post has already been read 1189 times!

Related posts