ईरान पर लगे प्रतिबंधों से प्रभावित नहीं होगी चाबहार बंदरगाह परियोजना: ट्रम्प प्रशासन

वॉशिंगटन। ईरान से कच्चा तेल आयात करने वाले आठ देशों को अमेरिकी प्रतिबंधों से मिली छूट समाप्त करने के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के फैसले से ‘चाबहार बंदरगाह परियोजना’ प्रभावित नहीं होगी। भारत और ईरान मिल कर चाबहार बंदरगाह विकसित कर रहे हैं। विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने से कहा की अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण में सहायता तथा आर्थिक विकास से लिए मिली छूट जिसमें चाबहार बंदरगाह परियोजना का विकास एवं संचालन शामिल है, वह अलग से छूट है। कल हुई घोषणाओं से इस पर कोई असर नहीं पड़ेगा। गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान से तेल आयात की पाबंदी से किसी को भी छूट नहीं देने का निर्णय किया है। अमेरिका ने पिछले साल नवम्बर में आठ देशों भारत, चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, ताइवान, तुर्की, इटली तथा यूनान को छह महीने के लिये ईरान से तेल आयात की छूट दी थी। प्रवक्ता ने कहा की राष्ट्रपति की दक्षिण एशिया रणनीति अफगानिस्तान के विकास के साथ-साथ भारत के साथ हमारी घनिष्ठ भागीदारी को रेखांकित करती है। ट्रम्प के इस निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रवक्ता ने कहा की हम ईरानी शासन पर अधिकतम दबाव की नीति लागू करने के साथ ही दोनों देशों के साथ घनिष्ठ संबंध बनाना चाहते हैं।

This post has already been read 5601 times!

Sharing this

Related posts