रिम्स में 38 लावारिस शवों का किया अंतिम संस्कार

रांची : राज्य के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज रिम्स में लावारिस पड़े शवों का रविवार को अंतिम संस्कार किया गया। रिम्स में पिछले 2 माह से 38 लावारिस शव पड़े हुए थे। पुलिस ने शवों की पहचान के लिए कई बार आवेदन निकाला, लेकिन कोई आगे नहीं आया।

इसके बाद मुक्ति संस्था की ओर से रविवार को सभी लावारिस शवों का अंतिम संस्कार किया गया। दाह संस्कार की रस्म भी की गई। जुमार नदी के तट पर एक साथ चिता सजाई गई। जहां लावारिस शवों को एक साथ मुखाग्नि दी गई। इससे पहले विधि विधान के साथ दाह संस्कार की रस्म भी की गई। संस्था के अध्यक्ष प्रवीण लोहिया सहित अन्य सदस्यों ने दाह संस्कार से पहले ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। इसके बाद उन्हें मुखाग्नि दी गई।

कई शव काफी गल गए थे : इससे पहले सदस्यों ने रिम्स के मोर्चरी में पड़े सभी शवों को पैक कर ट्रैक्टर पर रखा। कई शव काफी गल गए थे, उसे प्लास्टिक में सील किया गया। इसके बाद सभी शवों को जुमार नदी के तट पर लाया गया, जहां उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। मुक्ति संस्था पिछले 5 वर्षों से लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करते आ रही है। इसमें शहर के कई बड़े व्यवसाई शामिल हैं, जो लावारिस शवों को मुक्ति प्रदान कर रहे हैं।

This post has already been read 6507 times!

Sharing this

Related posts