10 मीटर एयर पिस्टल में मेंस टीम ने जीता सोना

19वें एशियन गेम्स का आज 5वां दिन है। चीन के हांगझोउ में चल रहे इस खेल में गुरुवार को 10 मीटर एयर पिस्टल में भारतीय मेंस टीम ने गोल्ड जीता। सरबजीत सिंह, अर्जुन सिंह और शिवा नरवाल की तिकड़ी ने इस इवेंट में 1734 स्कोर कर गोल्ड जीता। इससे पहले भारतीय वूशु खिलाड़ी रोशिबिना देवी ने 60 किलो वेट कैटेगरी में सिल्वर जीता।

भारतीय खिलाड़ी एशियन गेम्स 2022 में अब तक 6 गोल्ड, 8 सिल्वर और 10 ब्रॉन्ज सहित कुल 24 मेडल जीत चुके हैं।

वूशु- रोशिबिना देवी ने 60 किलो वेट कैटेगरी में सिल्वर जीता। फाइनल में चीन की जियाओवेई वू से उन्हें 2-0 से हार का सामना करना पड़ा। यह एशियाड के इतिहास में वुशू में भारत का दूसरा रजत मेडल है।

सरबजीत सिंह, अर्जुन सिंह और शिवा नरवाल की तिकड़ी ने 10 मीटर पिस्टल मेंस इवेंट में 1734 स्कोर के साथ गोल्ड जीता। यह भारत का दिन का पहला गोल्ड है। इस इवेंट चीन ने 1733 स्कोर के साथ सिल्वर और वियतनाम ने 1730 का स्कोर कर ब्रॉन्ज जीता।

शूटिंग में अब 11 मेडल हो गए हैं, इनमें 3 गोल्ड हैं। 28 सितंबर को पांचवें दिन 10 मीटर एयर पिस्टल में सरबजीत सिंह, अर्जुन सिंह और शिवा नरवाल की तिकड़ी ने गोल्ड जीता। इससे पहले 27 सितंबर को चौथे दिन 25 मीटर रैपिड फायर में विमेंस टीम मनु भाकर, ईशा सिंह और रिदम सांगवान ने तो 25 सितंबर 10 मीटर एयर राइफल में दिव्यांश सिंह पंवार,ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और रुद्राक्ष पाटिल ने गोल्ड जीता था।

एशियन गेम्स के इतिहास में भारत ने वूशु में अब तक 10 मेडल जीते हैं, जिसमें 2 सिल्वर और आठ ब्रॉन्ज शामिल हैं। रोशिबिना देवी से पहले संध्यारानी देवी ने गुआंगझोऊ 2010 में महिलाओं के 60 किग्रा में पहला सिल्वर जीता था। रोशिबिना देवी का एशियाड में यह दूसरा मेडल है। इससे पहले उन्होंने 2018 एशियन गेम्स में 60 किलो वेट में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

This post has already been read 1825 times!

Sharing this

Related posts