सेवन स्टार्स अकादमी हेहल 12वां वार्षिक उत्सव मनाया ।

Ranchi: विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी ‘सेवेन स्टार्स एकेडमी’ हेहल रांची के प्रांगन में बड़े हर्षोल्लास के साथ धूम-धाम से 12वां वार्षिकोत्सव मनाया गया। इस कार्यक्रम के शुभ अवसर पर यहाँ के बच्चों ने शुभारम्भ में आये हुए आगुन्तकों के स्वागत में स्वागत नृत्य प्रस्तुत करते हुए पुष्पों की वृष्टि की।
कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि श्री सूर्य नारायण सूरी (अखिल भारतीय संगठन मंत्री जनजाति सुरक्षा मंच नई दिल्ली), विशिष्ट अतिथि प्रकाश भाव व्हीके (पूर्व जिला न्यायधीश), सेवेन स्टार्स एकेडमी के निदेशक डा. विन्देश्वर बेक, सचिव सीमा तिग्गा, चेयर पर्सन सोनामती तिग्गा, प्रशासक पी.के. विद, प्राचार्य डा. बब्बन कुमार, उपप्राचार्य रितु प्रिया ने सामूहिक रूप से दीप प्रजव्लित एवं पुष्प अर्पित कर उदघाटन किया।
अतिथियों के स्वागत के तत्पश्चात बच्चों ने मुख्य अतिथि एवं आगुन्तकों के स्वागत में अपनी मधुर आवाज में स्वागत गान प्रस्तुत किया। वार्षिक उत्सव में छात्रों के अभिभावक एवं अन्य आगुन्तक भी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। इस अवसर पर विभिन्न कक्षाओं के छात्रों द्वारा गायत्री मंत्र, गणेश वंदना, लुंगी डांस, नेपाली डांस, नागपुरी डांस,सोलो डांस, भांगड़ा डांस, युग मंथन एवं नाटक पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया।
इस कार्यक्रम के शुभ अवसर पर विद्यालय के निदेशक डा. विन्देश्वर बेक ने स्वागत संबोधन करते हुए कहा छात्रों को हिम्मत न हारते हुए मुश्किलों का सामना करते हुए सफल होने की ओरअग्रसर होना चाहिये।आज के सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिए यह पता चलता है कि प्रतिभावान छात्रों को जीवन में सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।
विद्यालय का वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए उप प्राचार्य रितु प्रिया ने कहा विद्यालय के बच्चे का शत प्रतिशत परीक्षा फल का होना, खेल के क्षेत्रे में तमाम आयाम को छूना, आज के वर्तमान परिवेश में कंप्यूटर एवं आईटी के क्षेत्र में भी नये उच्चाईयों को छूना विद्यालय के अद्भुत प्रतिभा को दर्शाता है आज विद्यालय के पास आउट बच्चे विभिन्न क्षेत्रों में देश की सेवा कर रहें है।
मुख्य अतिथि श्री सूर्यनारायण सूरी ने अपने संबोधन में कहा कि आज की आधुनिक शिक्षा के साथ साथ अभिभावक एवम बच्चों को अपने संस्कार व रीति रिवाज को भी बचाये रखना है। आज आधुनिकता के दौर में लोग अपने माता पिता व गुरु को कभी न भूले। क्योकि वे ही आपके भविष्य निर्माता है। आज बच्चों के पास भविष्य के लिए बहुत सारे दरवाजे खुले हुवे है । पाने के लिए सारा जहां है खोने के लिए कुछ भी नही है । बच्चे वर्तमान समय मे जी भी संसाधन है उसे लेकर आगे बढ़े। सरकार भी आज विद्यार्थियों के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है।
कार्यक्रम को श्री प्रकाश भाऊ विहिके, श्री शिवशंकर उराँव, रामकुमार पाहन,श्रीमति गंगोत्री कुजूर आदि ने भी संबोधित किया।
विद्यालय के प्राचार्य डा.बब्बन कुमार ने बच्चों के रंगारंग कार्यक्रम एवं विलक्षण प्रतिभा को देखकर कहा की इस विद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे विकास एक बहुत बड़ी सफलता है और आगामी दिनों में इसका अच्छा फल मिलेगा।
इस मौके पर स्कूल के छात्रों ने गीत तथा नृत्य के साथ-साथ अन्य रंगारंग कार्यक्रमों को आगे बढ़ाया एवं उपस्थित जनसमूह के मन को अपने नृत्य-गान से आह्लादित एवं आनन्दित किया।
इस मौके पर विद्यालय के सभी शिक्षक/ शिक्षिकाएं उपस्थित थे

This post has already been read 2658 times!

Sharing this

Related posts