संघ ने किया शहीदों के परिवार की सहायता का आह्वान

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने पुलवामा में शहीद हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों के परिवार की आर्थिक सहायता का आह्वान किया है। संघ के सरकार्यवाह भैयाजी जोशी ने एक बयान जारी कर कहा कि 14 फरवरी को कश्मीर घाटी के पुलवामा में सुरक्षा बलों पर हुए आत्मघाती हमले में 40 वीर सुरक्षाबलों का बलिदान हुआ है। पूरा देश इससे व्यथित है। वस्तुतः यह अप्रत्यक्ष युद्ध जैसी स्थिति है जिसमें देश के किसी न किसी भाग में प्रतिदिन सुरक्षा बल बलिदान दे रहे हैं ताकि हम शांति से रह सकें। उन्होंने कहा कि मातृभूमि की रक्षा में अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों के परिजनों की पीड़ा में हम सभी उनके साथ हैं। उन्होंने देश के लिए जीवन दिया है और देश का यह दायित्व है कि उनके वृद्ध माता-पिता और पत्नी-बच्चों की शिक्षा तथा जीवन निर्वाह के लिए चिन्ता करें। भैयाजी जोशी ने कहा कि भारत सरकार द्वारा सुरक्षा बलों के परिवारों की सहायता के लिए की गई पहल “भारत के वीर” ऐप अथवा वेबसाइट के माध्यम से हम उन बलिदानियों के परिवार तक व्यक्तिगत रूप से सहायता राशि पहुंचा सकते हैं। इस पर एक से अधिक परिवारों तक सहायता पहुंचाने तथा “भारत के वीर” स्थायी निधि में योगदान के विकल्प उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता ऐसे अवसरों पर सदैव अपने दायित्व की पूर्ति के लिए आगे आए हैं। ऐसा ही अवसर हमारे सामने फिर उपस्थित हुआ है। संघ सभी स्वयंसेवकों सहित समस्त देशभक्त समाज से आह्वान करता है कि वे अपना कर्तव्य मान कर यथासंभव सहयोग करें और इसके साथ ही इस चुनौतीपूर्ण परिस्थिति में एकजुटता, धैर्य एवं संयम का परिचय दें। योगदान सीधा गृह मंत्रालय द्वारा संचालित “भारत के वीर” ऐप के माध्यम से अथवा इंडियन ब्रेव हर्ट्स वेबसाइट पर दिया जा सकता है।

This post has already been read 9097 times!

Sharing this

Related posts