लेबनान सरकार हिजबुल्ला के नियंत्रण में नहीं: अधिकारी

बेरूत। हिजबुल्ला के उपनेता शेख नईम कासिम ने प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के इन आरोपों को खारिज किया है कि लेबनान की सरकार हिजबुल्ला के नियंत्रण में है। मीडिया में जारी रिपोर्ट्स में यह कहा गया। एक ऑनलाइन समाचार पत्र एलनशरा के मुताबिक, कासिम ने कहा, ये आरोप महत्वपूर्ण नहीं हैं। हिजबुल्ला खुद को लेबनान की राष्ट्रीय एकता सरकार का हिस्सा मानता है। सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, नेतान्याहू ने दावा किया था कि ईरान हिजबुल्ला के जरिए लेबनान सरकार को नियंत्रित करता है। इतना ही नहीं, अमेरिका ने भी लेबनान के नए कैबिनेट में हिजब्बुला के शामिल होने पर चिंता जताई थी। अमेरिका ने इस मुद्दे पर अपनी गहरी चिंता व्यक्त की थी पहली बार ऐसा हो रहा है कि स्वास्थ्य मंत्रालय हिजबुल्ला के नेत़ृत्व में है। स्वास्थ्य मंत्रालय के पास देश का सबसे बड़ा बजट है। इसी बीच, कासिम ने स्पष्ट किया कि स्वास्थ्य मंत्रालय बिना किसी पक्षपात के सभी लेबनान वासियों को अपनी सेवाएं प्रदान करेगा। नए स्वास्थ्य मंत्री, जमील जाबाक ने कहा है कि सरकारी अस्पतालों में सुधार और दवा की कीमतें कम करना उनकी प्राथमिकताओं में शामिल हैं।

This post has already been read 6732 times!

Sharing this

Related posts