राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री और वीर सावरकर पर की अभद्र टिप्पणी

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर के खिलाफ अभद्र टिप्पणियां की। प्रधानमंत्री को उन्होंने डरपोक, चोर और कायर तक कहा। उन्होंने कहा कि यह कायरता वाला डीएनए उन्हें सावरकर से मिला है जिन्होंने अंग्रेजों के आगे घुटने टेक दिए थे। अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अधिवेशन में दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में राहुल गांधी ने सम्मान सूचक शब्दों के बिना ही प्रधानमंत्री को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में हार का डर प्रधानमंत्री के चेहरे पर दिखाई देने लगा है। पहले लोग उनकी सभाओं में अच्छे दिन आयेंगे का नारा लगाते थे। अब वह चोकीदार चोर है के नारे लगाने लगे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री को सीधा नरेन्द्र मोदी संबोधित करते हुए कहा कि चीन डोकलाम में सेना भेजता है तो वह चीन जाकर उसके आगे हाथ जोड़ने लगते हैं। यह राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ है। ‘‘नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि उनकी 56 इंच की छाती है पर उनकी तो चार इंच की भी छाती नहीं है।’’ राहुल ने कहा, ‘‘ मैं पांच साल से नरेन्द्र मोदी से लड़ रहा हूं। मैं उनका चरित्र समझ गया हूं। उन्हें मेरे सामने स्टेज पर खड़ा कर दो। बहस करा दो। नरेन्द्र मोदी भाग जाएगा। वह डरपोक व्यक्ति है जिसे मैं पहचान गया हूं। जब कोई उसके सामने खड़ा होता है वह भाग जाता है।’’ स्वतंत्रता सैनानी वीर सावरकर का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा कि गांधी जी 15 साल अंग्रेजों के आगे नहीं झुके और जेल में बंद रहे। वहीं सावरकर ने अंग्रेजों के आगे घुटने टेक दिए। यहां तक की सावरकर ने अंग्रेजों के पैर तक छुए। यही डीएनए भाजपा और नरेन्द्र मोदी में है। वह कायर और डरपोक हैं। कांग्रेसी शेर के बच्चे हैं और उन्हें देखते यह कायर भाग रहे हैं।

This post has already been read 18753 times!

Sharing this

Related posts