राज्य सरकार व जिला प्रशासन करेगा हर संभव सहयोग:उपायुक्त

Deoghar: देवघर जिले में स्थित नारायण सेवा आश्रम वर्षों से अनाथ बच्चों का ठिकाना रहा है। कौन बनेगा करोड़पति शो में आने के बाद आज उन्हें दुनिया जान रही हैं। आश्रम के संस्थापक हरेराम पांडेय कई वर्षों से अनाथ बेटियों के माता-पिता बनकर उन्हें जीना सीखा रहे हैं। आज बच्चियों को छोड़कर जाने वाले परिवार या बच्चियां मानसिक रूप से सामान्य नहीं है, इसलिए घर से निकाल दी गई बच्चियों का घर है नारयण सेवा आश्रम।

आज के समय में संस्थापक हरेराम पांडेय के साथ उनका पूरा परिवार बच्चियों की देखभाल में खूब मदद करते हैं। इसी कड़ी में नारयण सेवा आश्रम के माध्यम से हरेराम पांडेय द्वारा किए जा रहे नेक कार्य में सहयोग प्रदान करने के उद्देश्य से माननीय मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्री विशाल सागर ने नैयाडीह स्थित नारायणी सेवा आश्रम के संस्थापक से मुलाकात कर उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि आप सभी लोगों के सहयोग और आवश्यकताओं के अनुरूप राज्य सरकार द्वारा जिला प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किया जायेगा। एवं हमारी यह कोशिश है कि यहां रहने वाले सभी बच्चों को सभी आवश्यक मुलभूत सुविधाएं ससमय उपलब्ध हों एवं उन्हें किसी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पड़े।

आगे दुर्गापूजा के त्योहार को देखते हुए उपायुक्त श्री विशार सागर द्वारा आश्रम में रह रहे बच्चियों के बीच बीच बैग, पढ़ाई लिखाई से जुड़ी सामग्री, ड्रॉइंग सेट, मिठाई व फल का वितरण करते हुए बच्चियों से बातचीत कर उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी।

This post has already been read 2235 times!

Sharing this

Related posts