रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में छह बंदी कर रहे छठ पूजा

रांची। महापर्व छठ की शुरुआत शुक्रवार को नहाय-खाय के साथ शुरू हो गई। महापर्व छठ को लेकर एक तरफ जहां हर तरफ उत्साह का माहौल है, वहीं रांची जेल में भी पूरा माहौल छठमय हो गया है। हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में छह बंदी छठ पूजा कर रहे हैं।
छठ महापर्व को लेकर रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा के बंदी भी भक्ति में सराबोर हैं। जेल में सुबह-शाम छठी मईया के गीत गूंजने लगे हैं। रांची जेल में छह बंदी छठ पूजा कर रहे हैं। इसमें सितारा देवी, संतोषी देवी, ललिता देवी, सरिता देवी के अलावा कृष्णदेव महतो शामिल हैं। छठ व्रतियों को नहाय-खाय के लिए लौकी, कपड़ा, दूध, नारियल, सूप, फल, आदि पूजन सामग्री जेल प्रशासन की ओर से उपलब्ध कराया गया है।
व्रतियों की पूजा के लिए जेल के अंदर की छठ घाट बनाए गए हैं और अर्घ्य देने के लिए तालाब के साथ ही सिरसोता का भी निर्माण कराया गया है। महापर्व छठ को लेकर वैसे कैदी जो छठ पूजा नहीं कर रहे हैं वह भी दिन-रात मेहनत कर रहे हैं ताकि वैसे बंदी जो छठ व्रत कर रहे हैं उन्हें किसी भी तरह तकलीफ ना हो। छठ महापर्व को लेकर जेल के अंदर बने छठ घाट और जेल परिसर को रंग-बिरंगी लाइटों से सजाया गया है। जेल प्रशासन के अनुसार छठ महापर्व में व्रतियों को किसी तरह की परेशानी न हो, इसका पूरा ख्याल रखा जा रहा है। जेलर नसीम ने बताया कि छठ महापर्व में प्रसाद से लेकर पूजा सामग्री तक जेल प्रशासन मुहैया करा रहा है।

This post has already been read 1409 times!

Sharing this

Related posts