मुख्यमंत्री नेमरा, गोला में  शहीद सोबरन मांझी  के शहादत दिवस समारोह में हुए शामिल,

विकास की राह पर तेजी से आगे बढ़ रहा झारखंड : हेमन्त सोरेन

गोला रामगढ़ । मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि यह संवेदनशील औऱ आम जन की सरकार है। इस सरकार में योजनाएँ एयर कंडीशन्ड कमरे में नहीं बनती हैं। हम राज्य के हालात और   जनता की जरूरतों को ध्यान में रखकर नीतियां बनाते हैं।   योजनाएँ हकीकत में धरातल पर उतरे, यह  हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है. मुख्यमंत्री सोमवार को शहीद सोबरन मांझी  के 66 वें शहादत दिवस पर लुकैयाटांड, नेमरा, गोला, रामगढ़ में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने    25 करोड़ 64 लाख रुपए की 34 योजनाओं का  उद्घाटन- शिलान्यास और लाभुकों के बीच  परिसंपत्तियों का वितरण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक लंबे संघर्ष के बाद हमें झारखंड राज्य मिला। इसके लिए ना जाने कितने लोगों ने अपनी शहादत दी। हमारी सरकार इनकी शहादत को बेकार नहीं जाने देगी। आज  सरकार की नज़रें और योजनाएं  जंगलों, पहाड़ों, तलहटी और दुरूह-दुरस्त इलाकों में रहने वाले लोगों तक पहुंच रही है। हम अपने शहीदों के सपनों का झारखंड बना रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि  आज झारखंड में बदलाव देखने को मिल रहा है। दूरस्थ इलाकों में भी  वृहत पैमाने पर सड़कें, पुल -पुलिया बन रही है। गांव- गांव में बिजली- पानी जैसी आधारभूत सुविधाएं पहुंच रही है। हम विकास की राह पर तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। हमारी सरकार सभी बुजुर्ग , विधवा और दिव्यांग को पेंशन दे रही है। 20 लाख अतिरिक्त हरा राशन कार्ड राशन जारी कर  लोगों को अनाज दे रहे हैं । गरीबों को धोती -साड़ी मिल रहा है। बच्चियां पढ़ाई से जुड़ी रहें, सावित्रीबाई फूले किशोरी समृद्धि योजना के तहत आर्थिक सहायता दे रहे हैं। हजारों नौजवानों को सरकारी और निजी क्षेत्र में नौकरियां दे रहे हैं तो स्वरोजगार  करने के इच्छुक युवाओं को मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत आर्थिक मदद दी जा रही है। किसानों- पशुपालकों और श्रमिकों के लिए बिरसा हरित ग्राम योजना और मुख्यमंत्री पशुधन योजना जैसी कई योजनाएं चल रही हैं। हमारी सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के इरादे से योजनाएं बना रही हैं। पिछले दो दशकों में दौरान ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोग ना अपने बीडीओ- सीओ को पहचानते थे और ना ही अपने  डीसी को। ब्लॉक कार्यालय कहां है, इसकी भी जानकारी नहीं होती थी।  ऐसे में भला वे योजनाओं को कैसे जानेंगे और उसका लाभ कैसे लेंगे, इसे सहज समझ सकते हैं। लेकिन, हमारी सरकार ने “आपकी योजना -आपकी सरकार- आपके द्वार” कार्यक्रम के तहत गांव- पंचायत में शिविर लगा रही है। यहां अधिकारी योजनाओं की पोटली लेकर पहुंच रहे हैं । आप इन शिविरों में आएं और सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लें।  इस अवसर पर  झारखंड राज्य समन्वय समिति के श्री फागू बेसरा (राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त ), पूर्व विधायक श्रीमती ममता देवी और  जिले के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक  समेत अन्य  पदाधिकारी मौजूद थे।  

This post has already been read 3905 times!

Sharing this

Related posts