मिराज दुर्घटना की रिटायर्ड जज की निगरानी में जांच की मांग खारिज

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बेंगलुरु में 1 फरवरी को हुई लड़ाकू विमान मिराज की दुर्घटना की रिटायर्ड जज की निगरानी में जांच की मांग खारिज कर दिया है। याचिका वकील आलोक श्रीवास्तव ने दायर की थी। इस दुर्घटना में वायुसेना के दो पायलटों की मौत हो गयी थी। याचिका में ये भी कहा गया था कि भविष्य में ऐसी घटना रोकने के लिए कमेटी बना कर विमानों की जांच करवाई जाए। चीफ जस्टिस ने कहा कि क्या आप जानते हैं ये मिराज 2000 विमान कौन-सी जनरेशन का था? इस पर वकील खामोश रहा। इस पर चीफ जस्टिस ने कहा कि आपको ये भी नहीं पता? हम बताते हैं। ये तीसरी जनरेशन का विमान था। ये तो गिरना ही था। क्या ये सुप्रीम कोर्ट का काम है कि इसमें न्यायिक जांच के आदेश दे। आपकी याचिका हम खारिज कर रहे हैं।

This post has already been read 5894 times!

Sharing this

Related posts