मध्य पूर्व संकट, वैश्विक अस्थिरता के लिए अमेरिका ‘जिम्मेदार’ : पुतिन

मॉस्को। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि अमेरिका और उसके सहयोगी देश मध्य पूर्व संकट और अन्य क्षेत्रीय संघर्षों के पीछे हैं और वैश्विक अस्थिरता से उन्हें सबसे ज्यादा फायदा होता है। सोमवार को शीर्ष सुरक्षा और कानून प्रवर्तन अधिकारियों के साथ एक बैठक में रूसी नेता ने कहा, “जो लोग मध्य पूर्व में संघर्ष और अन्य क्षेत्रीय संकटों के पीछे हैं, वे नफरत फैलाने और दुनियाभर के लोगों के बीच असंतोष पैदा करने के लिए उनके विनाशकारी परिणामों का फायदा उठाएंगे।”समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पुतिन ने कहा, यह समझना महत्वपूर्ण है कि मध्य पूर्व संघर्ष के पीछे कौन है और विभिन्न क्षेत्रों में घातक अराजकता के लिए कौन जिम्मेदार है। उन्होंने कहा, “यह वर्तमान अमेरिकी सत्तारूढ़ अभिजात वर्ग और उनके उपग्रह हैं जो वैश्विक अस्थिरता के मुख्य लाभार्थी हैं। पुतिन ने कहा कि देश को अस्थिर करने और इसके विविध और बहु-धार्मिक समाज को विभाजित करने के उद्देश्य से, मध्य पूर्व और अन्य क्षेत्रीय संघर्षों में नाटकीय स्थिति का उपयोग रूस के खिलाफ करने का प्रयास किया गया है। पुतिन ने कहा, अमेरिका कमजोर होता जा रहा है और दुनिया की एकमात्र महाशक्ति और आधिपत्य के रूप में अपनी स्थिति खो रहा है। यह विश्व व्यवस्था धीरे-धीरे अतीत की बात बनती जा रही है। उन्होंने कहा, वाशिंगटन अपने प्रभुत्व और वैश्विक नेतृत्व को बनाए रखना और बढ़ाना चाहता है। वैश्विक अस्थिरता के समय में यह अधिक सुविधाजनक है जब प्रतिस्पर्धियों और भूराजनीतिक विरोधियों पर लगाम लगाना आसान होता है।

This post has already been read 1729 times!

Sharing this

Related posts