भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा दिए गए सभी दिशा निर्देश का पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश

Ranchi: जिला निर्वाचन पदाधिकारी- सह-उपायुक्त रांची, श्री राहुल कुमार सिन्हा द्वारा आज दिनांक-11 मार्च 2023 को समाहरणालय ब्लॉक- ए स्थित सभागार में आसन्न लोकसभा निर्वाचन 2024 के निमित बैठक कर लोकसभा निर्वाचन 2024 के निमित Enforcement Agencies के जिला स्तरीय नोडल पदाधिकारी के साथ बैठक कर कई जरुरी आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया।
बैठक में, उप- निर्वाचन पदाधिकारी रांची, श्री बिवेक कुमार सुमन राज्य नोडल अधिकारी, राज्य पुलिस विभाग (एसपीडी), आयकर विभाग (आईटीडी) राज्य उत्पाद शुल्क विभाग (एसईडी), केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर (सीजीएसटी), राज्य वस्तु एवं सेवा कर/वाणिज्यिक कर (एसजीएसटी/सीटी), राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) प्रवर्तन निदेशालय (ईडी), नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी), सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी), भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), असम राइफल्स, भारतीय तट रक्षक (आईसीजी), रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ), डाक विभाग (डीओपी), वन विभाग, भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण (एएआई), राज्य नागरिक उड्डयन विभाग (एससीएडी), नागरिक उड्डयन सुरक्षा ब्यूरो (बीसीएएस), राज्य परिवहन विभाग के अधिकारी/ पदाधिकारी एवं सम्बंधित सभी अधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में लोकसभा निर्वाचन 2024 के निमित Enforcement Agencies के जिला स्तरीय नोडल पदाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा गया की फ्लाइंग स्क्वाड ( उड़न दस्ता दल) चुनाव की घोषणा के साथ प्रभावी हो जाता है एवं स्टेटिक सर्विलांस टीम चुनाव की अधिसूचना पर क्रियाशील हो जाती है। जिसपर उपायुक्त रांची द्वारा सभी सम्बंधित Enforcement Agencies के जिला स्तरीय नोडल पदाधिकारी अपनी दिए गए कार्यों को भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा दिए गए सभी दिशा निर्देश का पालन सुनिश्चित रूप से पूरा करेंगे।
भारत के चुनाव आयोग ने वास्तविक समय के अपडेट के लिए एक तकनीकी-प्लेटफ़ॉर्म विकसित किया है। यह प्लेटफ़ॉर्म क्षेत्र से बरामदगी पर वास्तविक समय के अपडेट के लिए है। चुनाव के दौरान अवैध रूप से नकदी, शराब, ड्रग्स और दूसरी अवैध सामग्री के इस्तेमाल को रोकने के लिए चुनाव आयोग सक्रिय रहता है. इस दौरान चुनाव आयोग द्वारा ऐसी अवैध सामग्री को जब्त भी किया जाता है।
भारत निर्वाचन आयोग द्वारा शुरू किए गए नए सीविजिल ऐप से इन सभी कमियों को दूर होने और फास्ट-ट्रैक कम्प्लेन रिसेप्शन और निवारण प्रणाली बनने की उम्मीद है। सीविजिल नागरिकों के लिए निर्वाचन के दौरान आदर्श आचार संहिता और व्यय संबंधी उल्लंघनों की रिपोर्ट करने के लिए एक नवोन्मेषी मोबाइल ऐप्लिकेशन है। ‘सीविजिल’ का अर्थ जागरूक नागरिक है और यह स्वतंत्र और निष्पक्ष निर्वाचनों के संचालन में नागरिकों द्वारा निभाई जा सकने वाली सक्रिय और जिम्मेदार भूमिका पर जोर देती है।

This post has already been read 931 times!

Sharing this

Related posts