भाजपा किसान मोर्चा के प्रतिनिधि मंडल ने अंचल अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

धान अधिप्राप्ति केंद्र दस दिनों के अंदर नहीं खुले तो उग्र आंदोलन: अमरनाथ चौधरी

ओरमांझी: भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के अध्यक्ष कामेश्वर महतो के नेतृत्व में मुख्यमंत्री झारखंड सरकार द्वारा अंचलाधिकारी ओरमांझी नितिन शिवम गुप्ता को धान अधिप्राप्ति केंद्र जल्द खोलने को लेकर एक प्रतिनिधि मण्डल द्वारा ज्ञापन सौंपा गया। इस अवसर पर प्रदेश किसान मोर्चा उपाध्यक्ष अमरनाथ चौधरी ने कहा कि झारखंड सरकार अभी तक धान अधिप्राप्ति केंद्र नहीं खोलना बहुत ही ही दुर्भाग्यपूर्ण है।एक ओर किसान कम बारिश से कम उपज से महाजन के कर्ज़ में डूबे हुए हैं। दूसरी ओर सरकार किसान के दर्द देखकर चुप्पी साधी हुई है।जिसके चलते किसान महाजनों के कर को कम करने के लिए कौड़ी के दाम पर बेचने के लिए विवश हैं। केंद्र सरकार द्वारा धान अधिप्राप्ति का समर्थन मूल्य21. 83 पैसा एवं राज्य सरकार 1.17 पैसा बोनस दे रही है। यदि धान अधिप्राप्ति केंद्र खुला हुआ रहता तो किसान 23 रूपए प्रति किलो बेच सकते थे। जिन्हे किसान मजबूरन 15 रुपए किलो धान बेंच रहे हैं। उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि झारखंड सरकार अगर 10 दिनों के अंदर धान प्राप्ति केंद्र नहीं खोलती है। तो किसान मोर्चा द्वारा उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी। जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। इस अवसर पर राँची जिला ग्रामीण उपाधक्ष मानकी राजेंद्र शाही, महामंत्री अलखनाथ महतो, सांसद प्रतिनिधि राजेश गुप्ता, मुखिया दीपक बड़ाइक, मंत्री राजकिशोर साहू, सोशल मीडिया प्रभारी शशि मेहता, अजय साहू,आनंद महतो आदि उपस्थित थे।

This post has already been read 1153 times!

Sharing this

Related posts