प्रखंड समन्वयकों को सिर्फ पंचायती राज के कार्यों में ही लगाए : निशा उरांव

रांची। पंचायती राज निदेशक निशा उरांव ने पंचायत राज स्वशासन परिषद अंतर्गत कार्यरत कर्मियों को प्राथमिकता के अनुसार पंचायती राज संस्थानों में ही कार्य पर लगाने का निर्देश सभी उपायुक्तों को दिया है। उन्होंने इस संबंध में पूर्व सचिव विनय कुमार चौबे के हस्ताक्षर से जारी पत्र की कॉपी भी दी है।
निशा उरांव ने कहा कि लगातार समीक्षा में यह बात सामने आ रही है कि स्वशासन परिषद अंतर्गत कार्यरत कर्मियों को दूसरे कार्यों में लगाया जा रहा है, जिस वजह से पंचायतों का काम प्रभावित हो रहा है। विभागीय लक्ष्य प्राप्त करने में भी दिक्कत हो रही है। राज्य सरकार ने पंचायती राज स्वशासन परिषद के अंतर्गत प्रखंड समन्वयकों की नियुक्ति की थी और इसके लिए विस्तृत दिशा-निर्देश भी दिया गया था। यह स्पष्ट किया गया था कि प्रखंड समन्वयक की नियुक्ति पूरी तरह से स्वशासन परिषद के कार्यों के लिए की गयी है।
निशा उरांव ने कहा कि ऐसे में किसी प्रखंड समन्वयक को विभाग द्वारा निर्धारित दायित्वों के इतर कार्यों में नहीं लगाया जायेगा। यदि लगाना अपरिहार्य हो तो इस संबंध में जिला पंचायत राज पदाधिकारी से अनुमति लेनी होगी। ऐसे में सभी उपायुक्त इस संबंध में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दें ओर प्रखंड समन्वयकों को प्राथमिकता के आधार पर सिर्फ पंचायत के कार्यों में लगाने को कहें।

This post has already been read 1089 times!

Sharing this

Related posts