पाकिस्तान में आम चुनाव के लिए चुनाव आयोग जारी कर रहा डाक मतपत्र

आचार संहिता उल्लंघन करने वाले प्रत्याशियों से वसूला जुर्माना

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में आम चुनाव के लिए जारी प्रक्रियाओं के बीच निर्वाचन आयोग ने शनिवार से डाक मतपत्र जारी करना शुरू कर दिया। सभी पात्र 22 जनवरी तक डाक मतपत्र के माध्यम से अपने मतदान की प्रक्रिया पूरी करेंगे। वहीं निर्वाचन आयोग की निगरानी टीम ने चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले प्रत्याशियों से जुर्माने के रूप में 85,000 पाकिस्तानी रुपये वसूले हैं।

निर्वाचन आयोग ने लाहौर हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर चुनाव चिह्न मामले से संबंधित आदेश में अपने विरुद्ध की गई टिप्पणी को हटाने की मांग की है। आयोग की पांच सदस्यीय पीठ ने हाई कोर्ट के 17 जनवरी के आदेश की समीक्षा करने के बाद दीवानी अर्जी दाखिल कराने का निर्णय लिया। वहीं पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) चेयरमैन बिलावल भुट्टो जरदारी ने चुनाव के बाद पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के साथ गठबंधन की संभावना से इनकार किया है। पीपीपी चेयरमैन ने कहा, एक बार मूर्ख बनाया, तुम्हारे ऊपर शर्म। दूसरी बार मुझे मूर्ख बनाया तो मेरे ऊपर शर्म।

मानवाधिकार कार्यकर्ता अमजद अयूब मिर्जा ने कहा है कि गुलाम जम्मू-कश्मीर और गिलगित बाल्टिस्तान के लोगों की मांग पांच फरवरी तक पूरी नहीं की गई तो निर्वासित राजनेताओं के पास अपनी सरकार गठित करने के अलावा और कोई उपाय नहीं बचेगा। मिर्जा ने कहा कि बिजली बिल पर करों का बोझ कम करना और क्षेत्र में गेहूं के दाम घटाना पर्याप्त नहीं है। पाकिस्तान क्षेत्र से न केवल अपनी सेना हटाए, बल्कि गुलाम जम्मू-कश्मीर की असेंबली को पूर्ण संप्रभुता दे।

This post has already been read 2241 times!

Sharing this

Related posts