‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम को लेकर झारखंड शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद ने जारी किए निर्देश

रांची। परीक्षा के तनाव को कम करने के लिए हर वर्ष की भांति आगामी जनवरी या फरवरी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का छात्रों, शिक्षकों एवं अभिभावकों के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम का सातवां संस्करण राजधानी दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम के टाउनहॉल में आयोजित होगा। इसे देखते हुए झारखंड शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद की निदेशक किरण कुमारी पासी ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों सह जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों को पत्र भेजा है।
पत्र में सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों, अनुमंडल शिक्षा पदाधिकारियों एवं क्षेत्र शिक्षा पदाधिकारियों को इस अत्यंत महत्वपूर्ण कार्यक्रम को देखते हुए सभी स्तरों पर तैयारी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। कार्यक्रम के व्यापक प्रचार प्रसार या जिला स्तर पर एक्शन प्लान तैयार करने के साथ कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में छात्रों की भागीदारी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है।
क्या है परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम?
इस कार्यक्रम में छात्रों के मन से परीक्षा का तनाव कम करने के लिए प्रधानमंत्री छात्रों के साथ सीधा संवाद कर रहे है। प्रधानमंत्री छात्रों के प्रश्न सुनते हैं और उसका सरलतापूर्वक जवाब देते हैं, जिससे छात्र के मन में उपजे परीक्षा के तनाव को कम किया जा सके। स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग, भारत सरकार द्वारा परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम का आयोजन विगत 6 वर्षो से करवाया जा रहा है। इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए इच्छुक प्रतिभागियों का पंजीकरण 12 जनवरी, 2024 तक https:nnovateindia.mygov.in/ppc-2024/ पर किया जा सकता है। इस प्रतियोगिता में कक्षा 6 से 12 तक पढ़ने वाले छात्र, शिक्षक एवं अभिभावक भाग ले सकते हैं।
परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में भाग लेने के लिए छात्रों, अभिभावकों एवं शिक्षकों को सबसे पहले माईगॉव इनोवेट प्लेटफार्म (https:nnovateindia.mygov.in/ppc-2024/) पर होस्ट की गई परीक्षा पे चर्चा प्रतियोगिता में हिस्सा लेना होगा। इसमें कक्षा 6 से 12 तक के स्कूली बच्चे ही शामिल हो सकते है। ऑनलाइन बहु विकल्पीय प्रश्न पर आधारित प्रतियोगिता पूरी करने के बाद छात्र अपना प्रश्न माननीय प्रधानमंत्री को अधिकतम 500 शब्दों में सबमिट कर सकते हैं। इस बार माता-पिता और शिक्षक भी भाग ले सकते हैं और उनके लिए विशेष रूप से डिजाइन की गई ऑनलाइन गतिविधियों में अपनी प्रविष्टियां सबमिट कर सकते हैं।
विजेताओं को प्रधानमंत्री के साथ परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में प्रत्यक्ष प्रतिभागी बनने का अवसर मिलेगा। साथ ही प्रत्येक विजेता को विशेष रूप से डिजाइन किया गया प्रशंसा प्रमाण पत्र भी मिलेगा। विजेताओं में से छात्रों के एक समूह को प्रधानमंत्री के साथ सीधे संवाद करने का और और उनसे सवाल पूछने का अवसर मिलेगा। इन विशेष विजेताओं में से प्रत्येक को प्रधानमंत्री के साथ उनकी ऑटोग्राफ की गई तस्वीर की एक डिजिटल स्मारिका भी इनाम स्वरूप मिलेगी। साथ ही हर विजेता को एक स्पेशल परीक्षा पे चर्चा किट भी मिलेगी।
परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम छात्रों के लिए तनाव मुक्त माहौल तैयार करने की दिशा में प्रधानमंत्री की रचना ‘एग्जाम वॉरियर्स’ का हिस्सा है। छात्रों, अभिभावकों, शिक्षकों और समाज को एक साथ लाने के प्रधानमंत्री के प्रयासों से प्रेरित इस कार्यक्रम का उद्देश्य एक ऐसा माहौल तैयार करने का है, जहां प्रत्येक बच्चे के अद्वितीय व्यक्तित्व को सराहा जाए, प्रोत्साहित किया जाए और उन्हें अपनी बातों को व्यक्त करने का अवसर मिले।
‘एग्जाम वॉरियर्स’ पुस्तक के माध्यम से प्रधानमंत्री ने शिक्षा के लिए एक नया दृष्टिकोण पेश किया है। इसमें छात्रों के ज्ञान और समग्र विकास को प्राथमिकता दी गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी से परीक्षा को अनावश्यक तनाव और दबाव से जीवन-मृत्यु की स्थिति बनाने के बजाय इसे सही परिप्रेक्ष्य में देखने का आग्रह किया है। इस पुस्तक का सन्देश यही है कि सीखना एक सुखद, पूर्ण और अंतहीन यात्रा है।

This post has already been read 1710 times!

Sharing this

Related posts