नेपाल के पहाड़ों की एक तिहाई बर्फ खत्म: संयुक्त राष्ट्र

कोलंबोंI संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेश ने कहा है कि ग्लोबल वार्मिंग की वजह से नेपाल के पहाड़ों की करीब एक तिहाई बर्फ खत्म हो चुकी है. हिमालय के पहाड़ों में वैश्विक औसत से ज्यादा तापमान बढ़ा है.एन महासचिव गुटेरेश ने कहा है कि यह बर्फ करीब 30 सालों में खत्म हुई. सोमवार को माउंट एवरेस्ट के पास एक इलाके सोलुखुंबु के दौरे के बाद उन्होंने एक वीडियो संदेश के जरिए कहा कि नेपाल के ग्लेशियर पिछले दशक में उससे पहले के दशक के मुकाबले 65 प्रतिशत ज्यादा तेजी से पिघले. उन्होंने आगे कहा, “मैं आज यहां आया हूं ताकि दुनिया की छत से चिल्ला कर कह सकूं: यह पागलपन बंद कीजिए.” “जीवाश्म ईंधन युग” के अंत की मांग करते हुए उन्होंने चेतावनी भी दी कि ग्लेशियरों के पिघलने से नदियों और तालाबों में उफान आ जाएगा, पूरे के पूरे समुदाय बह जाएंगे हुए और समुद्रों के जलस्तर में भी रिकॉर्ड बढ़ोतरी होगी.गुटेरेश नेपाल की चार दिवसीय यात्रा पर हैं. उन्होंने देशों से वैश्विक तापमान में बढ़ोतरी को भी 1.5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित करने की अपील की ताकि “जलवायु उथल पुथल के सबसे बुरे हालात” से बचा जा सके. हिमालय और हिंदुकुश के ग्लेशियर उजड़े तो भारत का क्या होगा. जलवायु वैज्ञानिकों का कहना है कि पिछले 100 सालों में धरती के तापमान में औसत 0.74 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई है, लेकिन हिमालय के इलाकों में वैश्विक औसत से ज्यादा तेजी से तापमान बढ़ा है.

This post has already been read 3267 times!

Sharing this

Related posts