नहीं थम रहा है कर्नाटक का सियासी ड्रामा, फिर एक बार मुश्किल में आई गठबंधन सरकार

कर्नाटक। कर्नाटक में सियासी ड्रामा थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। एक बार फिर से वहां गठबंधन सरकार मुश्किल में नजर आ रही है। क्योंकि कांग्रेस और जेडीएस अपने 13 विधायकों को लेकर असमंजय में है। इन विधायकों में 10 कांग्रेस के तो 2 निर्दलीय विधायक शामिल है। ये विधायक लगातार दूसरे दिन भी बजट सत्र से मौजूद नहीं रहे। इनकी बजट सत्र में गैरहाजिरी गठबंधन सरकार के लिए मुश्किले खडी कर सकती है। क्योंकि गठबंधन सरकार को ऑपरेशन लोटस के सफल होने का डर सता रहा है। आपको बता दें कि इस समय भी आंकडे बीजेपी के पक्ष में नजर नहीं आ रहे है। इसी बीच कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी ने पीएम मोदी पर हमला बोला है। सीएम कुमारस्वामी ने कहा है कि पीएम योजनाबद्ध तरीके से लोकतंत्र को खत्म करना चाहते है। इसके बाद कुमारस्वामी ने बताया कि मैं सभी विपक्षी पार्टियों से आगे आकर संसद में उनको बेनकाब करने की अपील करता हूं। जहां एक तरफ वे देश के नेताओं को उपदेश देते है। तो वहीं दूसरी तरफ अपने दोस्त को कालेधन के जरिए लोकतंत्र गिराने का बढ़ावा देते है। मेरेे पास उनकी बात के लिए सबूत है और मैं यह बेनकाब करूंगा। तो वहीं कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी ने एक ओडियों टेप जारी किया है। जिसमें कथित रूप से येदियुरप्पा एक विधायक को 25 लाख रुपए और मंत्रिपद की पेशकश कर रहे है। तो इसके साथ ही वकील आरएलएन मूर्ति ने बीजेपी के नेता बीएस येदियुरप्पा, मल्लेशवरम विधायक अश्वनाथ नारायण और अन्य नेताओं के खिलाफ आरोप लगाया हैं कि वह कुछ सदस्यों को गलत तरीके से गिरफ्त में रखकर बजट सत्र में हिस्सा नहीं लेने दे रहे है। उन्होंने इन पर अपहरण का मामला दर्ज भी कराया है।

This post has already been read 8133 times!

Sharing this

Related posts