दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति बनने जा रहे हैं हम : मोदी

एकतानगरI प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को यहां कहा कि अगले कुछ सालों में हम दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आथिर्क शक्ति बनने जा रहे हैं। श्री मोदी ने अपने गुजरात के दो दिन के दौरे के दूसरे दिन आज यहां राष्ट्रीय एकता दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लिया और सरदार वल्लभभाई पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित कर कहा कि आज पूरी दुनिया भारत को देख रही है। आज भारत उपलब्धियों के नए शिखर पर है। जी-20 में भारत की सामर्थ्य को देखकर दुनिया हैरान हो गई है। उन्होंने कहा “हमें गर्व है कि हम विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र को नई ऊंचाई पर ले जा रहे हैं। हमें गर्व है कि अनेक वैश्विक संकटों के बीच भी हमारी सीमाएं सुरक्षित हैं। हमें गर्व है कि अगले कुछ वर्षों में हम दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आथिर्क शक्ति बनने जा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा “हमें गर्व है कि आज भारत चांद पर वहां पहुंचा है जहां दुनिया का कोई देश नहीं पहुंच पाया। हमें गर्व है कि आज भारत तेजस लड़ाकू विमान से लेकर आईएनएस विक्रांत तक खुद बना रहा है। हमें गर्व है कि आज भारत में हमारे प्रोफेशनल दुनिया की अरबों डॉलर की कंपनियों को चला रहे हैं नेतृत्व कर रहे हैं। हमें गर्व है कि आज दुनिया के बड़े-बड़े खेल आयोजनों में तिरंगे की शान लगातार बढ़ रही है। हमें गर्व है कि देश के युवा बेटे बेटियां रिकॉर्ड संख्या में पदक जीत रहे हैं। इस अमृत काल में भारत ने गुलामी की मानसिकता को त्याग कर आगे बढ़ने का संकल्प लिया है।

हम देश से गरीबी को खत्म कर सकते हैं


एकतानगरI प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को यहां कहा कि भारत में गरीबी कम हो रही है। उन्होंने कहा, “ पांच वर्षों में साढ़े 13 करोड़ से ज्यादा लोग गरीबी से बाहर आए हैं। इससे हमें यह विश्वास मिला है कि हम देश से गरीबी को खत्म कर सकते हैं। हमें इसी दिशा में निरंतर आगे बढ़ते ही रहना है। ”
श्री मोदी ने गुजरात के दो दिन के दौरे के दूसरे दिन यहां राष्ट्रीय एकता दिवस कार्यक्रम में शामिल होते हुये कहा,“ हमें कुछ बातों को कभी भूलना नहीं है, उसे सदा-सर्वदा याद भी रखना है। मैं आज राष्ट्रीय एकता दिवस पर प्रत्येक देशवासी से, इस बारे में मेरे मन के भाव, आज उनके सामने मैं प्रकट करना चाहता हूं। आज पूरी दुनिया में उथल-पुथल मची हुई है। कोरोना संकट के बाद से कई देशों की अर्थव्यवस्था की हालत चरमरा गई है। बहुत सारे देश 30-40 सालों की सबसे ज्यादा महंगाई से आज जूझ रहे हैं। उन देशों में बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है। ऐसी स्थिति में भी भारत दुनिया में अपना परचम लहरा रहा है। हम एक के बाद एक चुनौतियों को पार करते हुए लगातार आगे बढ़ रहे हैं। हमने नये रिकॉर्ड बनाए हैं, हमने नये पैमाने भी बनाए हैं। पिछले नौ साल में देश जिन नीतियों और निर्णयों के साथ आगे बढ़ा है, उसका प्रभाव भी आज जीवन के हर क्षेत्र में देख रहे हैं।

This post has already been read 2529 times!

Sharing this

Related posts