डेविस कपः बोपन्ना-शरण ने युगल मुकाबला जीतकर भारत की उम्मीदें कायम रखी

कोलकाता। अपेक्षाओं पर खरे उतरते हुए भारत के रोहन बोपन्ना और दिविज शरण ने एक सेट से पिछड़ने के बावजूद वापसी करते हुए सिमोन बोलेली और मातेओ बेरेतिनी को हराकर इटली के खिलाफ डेविस कप क्वॉलिफायर में भारत की उम्मीदें कायम रखी। बोपन्ना और शरण ने दूसरे सेट के चौथे गेम में बेरेतिनी की सर्विस तोड़कर वापसी की। उन्होंने एक घंटे 43 मिनट तक चला मुकाबला 4-6, 6-3, 6-4 से जीता। 2012 के बाद वापसी कर रहे शरण ने बोपन्ना का पूरा साथ देते हुए फोरहैंड पर विनर लगाकर जीत दिलाई। इससे पहले भारत को पहले दो एकल मुकाबलों में पराजय झेलनी पड़ी थी। अब भारतीय टीम उलट एकल खेलेगी। शरण ने कहा, भारत के लिए खेलने का दबाव था लेकिन रोहन के साथ रहने से वह महसूस नहीं हुआ। मुझे ग्रास पर खेलना पसंद है और मैने बेसिक्स पर फोकस रखा। बेरेतिनी की सर्विस तोड़कर वापसी करने वाली भारतीय जोड़ी ने फिर दबाव बनने नहीं दिया। नौवां गेम सात मिनट तक खिंचा। इतालवी जोड़ी ने पहला सेट जीत लिया लेकिन इसके बाद भारतीय जोड़ी ने उन्हें मौका नहीं दिया।

This post has already been read 5183 times!

Sharing this

Related posts