डालसा द्वारा बालिकाओं को दी गई विधिक जानकारी

दुमका:झालसा के निर्देशानुसार 100 दिवसीय जागरूकता अभियान के तहत जिला विधिक सेवा प्राधिकार, दुमका के सचिव विश्वनाथ भगत ने काठीकुंड प्रखंड के राजकीय अनुसूचित जनजाति आवासीय बालिका उच्च विद्यालय, नकटी के छात्राओ को विधिक जागरूकता प्रदान करते हुए बाल विवाह, बाल श्रम, निशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार, मौलिक कर्तव्य और अधिकार, यौन शोषण से बच्चों की सुरक्षा अधिनियम, विद्यालय में बालकों के साथ होने वाले हिंसा एवं दुर्व्यवहार, मानव तस्करी तथा संबंधित कानून के बारे में समझाया उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में मोबाइल और इंटरनेट का प्रयोग चरम पर है, विद्यार्थी वर्ग भी इससे अछूता नहीं है। बहुत से अपराधों का सफर मोबाइल फोन और इंटरनेट से ही शुरू होता है उन्होंने मोबाइल और इंटरनेट के सदुपयोग के बारे में छात्राओ को अवगत कराया। बताते चले कि 25 दिसंबर तक चलने वाले इस अभियान में जिले के विभिन्न प्रखंडों के पैरा लिगल वॉलिंटियर्स के द्वारा भी विद्यालयों में विधिक साक्षरता क्लब के अंतर्गत छात्र-छात्राओं को विधिक जानकारी प्रदान की जा रही है।

This post has already been read 4287 times!

Sharing this

Related posts