कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स रांची के 7 वर्षीय विवान शौर्या ने पेंटिंग में जीता अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार

Ranchi: डोरंडा रांची के रहने वाले कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स के 7 साल के विवान शौर्य ने अपनी प्रतिभा के बल पर झारखण्ड का नाम अंतरास्ट्रीय पटल पर रोशन किया है | इन्होने इस उम्र में विश्व की प्रतिष्ठित चित्रकला प्रतियोगिता “अल्टीमेट एक्सप्रेशन २०२३ पिकासो आर्ट कांटेस्ट” में अपनी कला प्रतिभा के बल पर स्टार आर्टिस्ट का अवार्ड प्राप्त किया है | ये प्रतियोगिता 2014 से प्रतेक वर्ष आयोजित की जा रही है | इस वर्ष प्रतियोगिता में 35 देशों से 1000 से अधिक प्रतिभागीओं ने भाग लिया था जिसमे अमेरिका, जापान, इटली, हांगकांग, कनाडा, तुर्की, ऑस्ट्रिया, वियतनाम, रोमानिया, बुल्गारिया, सायप्रस, संयुक्त अरब अमीरात, ईरान, श्रीलंका, बांग्लादेश, उक्रेन एवं अन्य देश शामिल हैं | जिसमे 6 से 10 वर्ष वाले ग्रुप में 7 वर्षीय विवान ने इस प्रतियोगिता में अपने देश और राज्य का गौरव बढ़ाते हुए ये पुरस्कार प्राप्त किया है | विवान को 100 में से 98 अंक प्राप्त हुए हैं जिसके लिए इन्हें स्टार आर्टिस्ट सर्टिफिकेट ऑफ़ अचीवमेंट प्रदान किया गया | विवान ने इस परतियोगिता में लगातार चौथी बार स्टार आर्टिस्ट का पुरस्कार जीता है |
इस प्रतियोगिता में मिस्र से डॉ. लामिया एम लोटफी, पीएचडी फाइन आर्ट्, अलेक्सांद्रिया विश्वविद्यालय और प्रख्यात चित्रकार एवं कला शिक्षाविद् तुर्की से श्रीमती हिलाल सिनार अरापोग्लू निर्णायक की भूमिका में थी | प्रतियोगिता के सरे मापदंडों पर जिसमे नवाचार, रचनात्मकता, आकर्षक, पूर्णता, कलाकार की आयु, प्रस्तुति और कलात्मक क्षमता के आधार पर चुनाव किया जाता है | इस प्रतियोगिता में विवान ने माँ दुर्गा एवं अन्य देवी देवताओं की अब्स्त्रक्त पेंटिंग बनाई थी जिसमे जिसमे बोल्ड और वाइब्रेंट कलर्स का इस्तेमाल किया था |

This post has already been read 673 times!

Sharing this

Related posts